क्या इंसान को 100 साल तक जिंदा रख सकती है ब्लू जोन डाइट, आखिर क्या है हकीकत?


क्या आप ऐसे माहौल या ऐसे लोगों के बीच रहने की सोच सकते हैं जहां पर 100 की उम्र तक जीना एक आम बात है. ये कोई सपना नहीं है ऐसा असल दुनिया में होता है. जी हां दुनिया में कई देश ऐसे हैं जो अपने आप को ब्लू जॉन में होने का दावा करते हैं. इंसान की अधिकतम आयु 100 साल तक की होती है और हर इंसान चाहता है कि वो 100 साल की उम्र तक जीवित रहे. कई लोग 100 साल की उम्र तक पहुंचते भी हैं लेकिन हर कोई इस उम्र को नहीं पा सकता. 100 साल की उम्र पाने के लिए आपको बेहतर डाइट और एक हेल्दी लाइफ स्टाइल को अपनाना होगा.

क्या होता है ब्लू जोन?

डॉक्टरों के मुताबिक, ब्लू जोन में पाए जाने वाले फूड से हम 100 साल की उम्र पा सकते हैं. वहां के खान पान में अलग अलग तरह के पोषक तत्व होते हैं जो हमारे शरीर की सभी जरूरतों को पूरा करता है. दरअसल ब्लू जोन दुनिया के वे देश हैं जहां के लोग 100 साल या उससे ज्यादा की उम्र तक जी जाते हैं. ब्लू जोन में रहने वाले लोगों में डायबिटीज, कैंसर, दिल की बीमारी और मोटापा बहुत कम देखने को मिलता है. इन देशों में जापान,ओकिनावा,सार्डिनिया,इटली,इकारिया,ग्रीस,लोमा लिंडा,कैलिफोर्निया और कोस्टा रिका में निकोया आइलैंड आते हैं. इन जगहों के लोग एक खास तरह की डाइट (Blue Zone Diet) फॉलो करते हैं, जो अब आम लोगों के बीच भी पॉपुलर हो रहा है. इस डाइट की बदौलत 100 साल से ज्यादा तक जिंदा रह सकते हैं. आइए जानते हैं क्या है ब्लू जोन डाइट.

  Low Carb West African Recipe: Cauliflower Jollof - The Fast 800

ऐसे लोग जो ब्लू जोन में रहते हैं,उनके लिए नेशनल जियोग्राफिक फेलो डैन बुएटनर ने खास तरह की डाइट को बनाया है. यह ज्यादातर प्लांट बेस्ड है. उनकी करीब 95% डाइट में सब्जियां, फल, अनाज और फलियां शामिल हैं. ये सभी मांस, डेयरी, मीठा और प्रोसेस्ड फूड कम खाते हैं. आप भी इन डाइट्स को फॉलो करके 100 साल तक जीने की अपनी इच्छा को पूरा कर सकते हैं ऐसा दावा किया जाता है.

इसके अलावा और भी कई तरह की एक्टिवीटी है जिसे हम अपनी लाइफ का हिस्सा बना कर एक लंबी उम्र पा सकते हैं . आइए जानते हैं क्या है वो तरीका जिससे मिल सकती है एक बेहतर लाइप स्टाइल

  • खुद को एक्टिव रखें
  • पैदल चलें
  • बागवानी करें
  • हाउसकीपिंग जैसी एक्टिविटिज का हिस्सा बनें
  • शरीर को समय पर आराम दें
  • तनाव और स्ट्रेस से दूर रहें
  • खुद के लिए समय निकालें
  • अपना लक्ष्य बनाएं
  • जॉब और डेली रूटीन से अलग जिंदगी को समझें
  • आसपास के लोगों को महत्व दें
  • अपनी कम्युनिटी में ज्यादा से ज्यादा एक्टिव रहें

जरूरी बातें 

इसके अलावा प्लांट बेस्ड डाइट रखें. इसमें 95-100% हिस्सा प्लांट से आना चाहिए. पत्तेदार साग, फल और सब्जियां का सेवन ज्यादा से ज्यादा करें. हेल्दी ऑयल का इस्तेमाल करें.खाना पकाने और सलाद के लिए ब्लांट बेस्ड तेल जैसे जैतून का ही इस्तेमाल करें. प्रोटीन और फाइबर के लिए बीन्स और फलियां अपना खाने में जरूर शामिल करें.

डाइट में नट्स को भी शामिल करें.पोषक तत्वों के लिए कम से कम मुट्ठी भर नट्स खाएं. पानी पीने में कोताही न बरतें. आप चाहें तो दूसरी लिक्विड चीजें भी पा सकते हैं. मछली,मांस का कम से कम सेवन करें. अंडे और डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन भी सीमित ही करें. अपने खानपान में एक्स्ट्रा शुगर को शामिल करने से बचें.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.

यह भी पढ़ें: वॉक करने का नहीं मिल रहा फायदा, जानें कहां हो रही गलतियां

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

  एंडोमेट्रियोसिस के लिए सबसे अच्छा इलाज – Best Hindi Health Tips (हेल्थ टिप्स), Healthcare Blog – News

Leave a Comment