क्यों चुने: शारीरिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वास्थ्य – Best Hindi Health Tips (हेल्थ टिप्स), Healthcare Blog – News | GoMedii


फिट रहने की परिभाषा क्या है? क्या फिट कहलाने के लिए सिर्फ शारीरिक फिटनेस या मानसिक फिटनेस की भी कोई भूमिका है? यहां हम स्वास्थ्य की चर्चा के सबसे महत्वपूर्ण हिस्से पर बहस करेंगे, जो महत्वपूर्ण है, मानसिक स्वास्थ्य या शारीरिक स्वास्थ्य? विश्व स्वास्थ्य संगठन स्वास्थ्य को “पूर्ण शारीरिक, मानसिक और सामाजिक कल्याण की स्थिति” के रूप में परिभाषित करता है, न कि केवल बीमारी या दुर्बलता की अनुपस्थिति के रूप में। इसलिए हमारे पाठकों को यह बताना महत्वपूर्ण हो जाता है कि मानसिक स्वास्थ्य और शारीरिक स्वास्थ्य एक-दूसरे से कैसे संबंधित हैं और विशेष रूप से मनुष्यों के लिए काम नहीं कर सकते। निम्नलिखित आलेख मानसिक स्वास्थ्य या शारीरिक स्वास्थ्य के बीच संबंध और विकल्प पर प्रकाश डालने का एक प्रयास है। इसमें मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के बीच संबंध और अंतर को शामिल किया जाएगा।

 

 

 

 

 

मानसिक स्वास्थ्य को अब अधिक महत्व दिया जाने लगा है क्योंकि यह देखा गया है कि विभिन्न मानसिक बीमारियों से पीड़ित लोगों के शारीरिक स्वास्थ्य में भी गिरावट देखी गई है। कई अवलोकनों और अध्ययनों से यह साबित हुआ है कि यदि कोई हृदय रोग से पीड़ित व्यक्ति अत्यधिक उदास है तो उसे ठीक करना आसान नहीं है।

 

मानसिक स्वास्थ्य फाउंडेशन द्वारा किए गए एक अध्ययन में कहा गया है कि सिज़ोफ्रेनिया श्वसन रोग से मरने के तीन गुना जोखिम और हृदय रोग से मरने के दोगुने जोखिम से जुड़ा है। अवसाद को किसी व्यक्ति के कैंसर से मरने के जोखिम में 50 प्रतिशत की वृद्धि और हृदय रोग से 67 प्रतिशत की वृद्धि के साथ जोड़ा गया है। इन स्थितियों का जीवन प्रत्याशा पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है।” यह निश्चित रूप से मानसिक स्वास्थ्य या शारीरिक स्वास्थ्य के बीच किसी भी प्रकार के भ्रम को दूर करता है।

  Ginger Health: Goodness of Ginger Herb

 

 

 

मानसिक स्वास्थ्य या शारीरिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए क्या करना चाहिए।

 

 

मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए कुछ महत्वपूर्ण कदम हैं। निम्नलिखित कुछ उपायों को अपनाने से आप अपने मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को सुरक्षित रख सकते हैं:

 

 

  • नियमित व्यायाम: नियमित व्यायाम करना आपके शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। यह आपके हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करता है, मानसिक तनाव को कम करता है, और आपके मूड को उत्तेजित करता है।

 

  • स्वस्थ आहार: संतुलित और पोषणशाली आहार खाना आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। अधिकतम फल, सब्जियां, अनाज, प्रोटीन और हरे पत्तेदार खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

 

  • पर्याप्त नींद: पर्याप्त नींद लेना आपके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। यह आपके मूड को सुधारता है, मनोबल को बढ़ाता है, और शारीरिक संरचना को मजबूत करता है।

 

  • स्वस्थ संबंध: स्वस्थ और समर्थनशील संबंध आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं। समर्थक दोस्तों और परिवार के साथ समय बिताएं, साथ ही वाणीज्यक क्षेत्र में आत्मसमर्थ हों।

 

  • मानसिक स्वास्थ्य की देखभाल: अपने मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखें। योग, ध्यान, प्राणायाम जैसे मानसिक स्वास्थ्य को संतुलित रखने के तकनीकों का अभ्यास करें। अपने दिनचर्या में आराम और आनंद के लिए समय निकालें।

 

  • अध्ययन और नौकरी का संतुलन: शिक्षा, कार्य और विश्राम के बीच संतुलन बनाए रखने का प्रयास करें। अध्ययन और कार्य के लिए समय ताकि आप अपने लक्ष्यों की प्राप्ति में सक्षम हों।

 

  • निष्क्रिय या आत्म-रोगनुक चिन्हों का सामना करें: यदि आपको किसी निष्क्रिय या आत्म-रोगनुक चिन्हों का सामना है, तो तुरंत एक मानसिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ से संपर्क करें।
  बच्चों की सेहत के लिए ठीक नहीं है ये खट्टा फल, भूल कर भी ना खिलाएं, वरना फायदे की जगह हो सकता

 

 

 

इससे सम्बंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें। आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


 

 



Source link

Leave a Comment