क्यों बढ़ रहा हैं शुगर और थायरॉइड का खतरा जानिए इसके लक्षण और बचाव के उपाय


आधुनिक जीवनशैली, व्यस्तता, और खान-पान की बदलती अदातें के कारण शुगर और थायरॉइड जैसी बीमारियों का खतरा लगातार बढ़ रहा है। अन्यथा स्वस्थ और नियमित जीवनशैली के बदलते परिपेक्ष्य में, लोग इन बीमारियों के साथ निपटने के तरीके और बचाव के लिए जागरूक हो रहे हैं| डॉ. विक्रम सिंह, एक अत्यधिक अनुभवी एंडोक्राइनोलॉजिस्ट, बता रहे हैं, “शहरी जीवनशैली के अत्यधिक तनाव, अनियमित आहार, और कम शारीरिक गतिविधि के कारण शुगर और थायरॉइड जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है।”

 

वे इसे विस्तार से समझाते हैं, “शुगर और थायरॉइड के खतरे को कम करने के लिए, स्वस्थ और नियमित आहार लेना, नियमित व्यायाम करना, और तनाव को नियंत्रित करने के तरीकों का पालन करना आवश्यक है। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि इन बीमारियों के खिलाफ जागरूकता और संवेदनशीलता को बढ़ावा देना आवश्यक है। नियमित चेकअप और स्वस्थ जीवनशैली के लिए जागरूकता को बढ़ाने के लिए लोगों को सक्रिय रहने के लिए प्रेरित किया जा रहा है| सभी लोगों को अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए और योग्य चिकित्सा सलाह लेने के लिए नियमित चेकअप करवाना चाहिए| शुगर और थायरॉइड जैसी बीमारियों के खिलाफ जागरूकता बढ़ाने का यह एक प्रयास है जो लोगों को स्वस्थ और सकारात्मक जीवनशैली की ओर प्रोत्साहित करता है।

 

 

 

शुगर और थायरॉइड के खतरे में बढ़ोतरी: क्या हैं कारण?

 

 

शुगर (डायबिटीज)

 

  • लक्षण: शुगर के मुख्य लक्षणों में शामिल हैं बढ़ा हुआ प्यास और भूख, थकान, त्वचा की सूखापन, वजन कमी, अनियमित दिल की धड़कन, आँखों में धुंधलापन और वातावरण के सामान्य तापमान की बढ़ जाना।
  Best hospital for kidney cancer treatment in Delhi NCR? -GoMedici

 

  • उपचार और बचाव: शुगर को नियंत्रित रखने के लिए, स्वस्थ आहार, नियमित व्यायाम, और रोजाना की नियमित जाँच और दवाओं का सेवन करना महत्वपूर्ण है।

 

 

थायरॉइड रोग

 

 

  • लक्षण: थायरॉइड के असंतुलन के लक्षण में थकान, वजन में बढ़ोत्तरी या कमी, धार्मिक बदलाव, त्वचा में सूखापन, चेहरे का पुफ्फी होना, दिल की धड़कन की बढ़ जाना, चिंता, और अत्यधिक गरमी या ठंड जैसे लक्षण शामिल होते हैं।

 

  • उपचार और बचाव: थायरॉइड रोग के लिए उपचार व्यक्ति के स्थिति और रोग के प्रकार के आधार पर निर्धारित किया जाता है, जिसमें दवाओं का सेवन और नियमित जाँच शामिल होती है।

 

इन बीमारियों के सामान्य लक्षणों को नजरअंदाज न करें और समय रहते इलाज कराएं। स्वस्थ जीवनशैली, नियमित व्यायाम, और संतुलित आहार को अपनाकर इन रोगों से बचाव किया जा सकता है| सभी लोगों को अपने स्वास्थ्य का पूर्ण ध्यान रखना चाहिए और नियमित चेकअप कराना चाहिए। अगर आप में या आपके परिवार के किसी सदस्य में इन लक्षणों का सामना हो रहा है, तो तुरंत चिकित्सक सलाह लेना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

 

 

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें!

 

 

 

इससे सम्बंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें| आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।

  All You Need to Know About Salmonellosis- Bacterial Disease Impacting US and Europe. Should India be Worried?

 

 



Source link

Leave a Comment