गैंगरीन रोग क्या है और इलाज क्या है


गैंगरीन रोग क्या है

 

जब आपके शरीर के किसी भी हिस्से में चोट लग जाती है, और वे सही ढ़ग से ठीक नहीं होते हैं तो कुछ दिनों के बाद यह सड़ने लगता है और यह एक नई समस्या पैदा करती है जिसे गैंगरीन के नाम से जाना जाता है। गैंगरीन का अर्थ है ऊतक का सड़ना। यह रोग इतना घातक है कि यह आपके शरीर की हर कोशिका को प्रभावित कर सकता है और एक दिन आपकी मृत्यु शरीर के सड़ने के कारण हो सकती है।

 

 

गैंगरीन तीन प्रकार के होते हैं

 

सूखी गैंगरीन

 

सूखी गैंगरीन शरीर के बाहरी हिस्से में विकसित होती है। यह अंग तक पर्याप्त मात्रा में खून ना पहुंच पाने के कारण होता है। शुष्क गैंगरीन आमतौर पर बुजुर्गों के पैरों और उनकी उंगलियों पर विकसित होता है, जो आर्टेरियोस्क्लेरोसिस बीमारी के कारण होता है। यह धीरे-धीरे बढ़ता है और उन ऊतकों पर आ कर रुक जाता है, जिनको पर्याप्त मात्रा में खून मिल रहा हो। शुष्क गैंगरीन से प्रभावित त्वचा सूख कर सिकुड़ जाती है और उसका रंग गहरा लाल-काला हो जाता है।

 

वेट गैंगरीन

 

यह नम ऊतकों में होता है, जैसे कि मुंह, फेफड़े, आंत, सर्विक्स (गर्भाशय ग्रीवा) और वाल्व आदि। कूल्हे व एड़ियों आदि पर होने वाले बेड सोर्स भी वेट गैंग्रीन का एक प्रकार होता है। वेट गैंग्रीन को आमतौर पर कुछ बैक्टीरिया से संबंधित स्थिति माना जाता है। वेट गैंगरीन की तुलना में सेप्टिसीमिया के कारण रोग का निदान करना मुश्किल है। शुष्क गैंगरीन से प्रभावित हिस्से में खून ठहर जाता है जिससे बैक्टीरिया तेजी से बढ़ने लग जाते हैं।

 

गैस गैंगरीन

 

यह एक प्रकार का जीवाणु संक्रमण है, जो ऊतकों में गैस पैदा करता है। यह गैंगरीन का सबसे गंभीर प्रकार है। संक्रमण बहुत तेजी से फैलता है, क्योंकि बैक्टीरिया द्वारा उत्पन्न बैक्टीरिया आसपास के स्वस्थ ऊतकों में घुसना शुरू कर देते हैं। इसके आसपास के ऊतकों के तेजी से फैलने के कारण, इस स्थिति को गंभीरता से लिया जाता है और चिकित्सा आपातकाल के रूप में माना जाता है।

  The program tackling teen mental health head-on, in a place where suicide rates are a major concern

 

 

गैंगरीन के लक्षण

 

शरीर के प्रभावित हिस्से का रंग खराब हो जाता है और अंत में गहरा काला और पूरी तरह से सूख जाता है। वजन वाले गैंगरीन से प्रभावित ऊतकों में सूजन आ जाती है और त्वचा से बदबू आने लगती है। ड्राई गैंगरीन के कारण त्वचा पूरी तरह से सूख जाती है और रंग गहरा लाल या काला हो जाता है। गैस गैंगरीन बहुत खराब गंध पैदा करता है और भूरे रंग का मवाद विकसित होने लगता है।

 

  • त्वचा चमकदार दिखाई देना व पपड़ी उतरना

 

  • गैंगरीन से प्रभावित त्वचा और स्वस्थ त्वचा में स्पष्ट अंतर दिखाई देना।

 

  • प्रभावित हिस्से में दर्द होना और कुछ समय के बाद अंग को महसूस ना कर पाना व ना ही हिला पाना।

 

  • प्रभावित हिस्से की त्वचा ठंडी हो जाती है और इसमें धमनियों में कंपन होना बंद हो जाता है।

 

गैंगरीन के कारण और जोखिम कारक

 

गैंगरीन क्यों होता है?

 

आपके शरीर को स्वस्थ रखने में रक्त बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह पूरे शरीर के लिए पोषक तत्व और ऑक्सीजन प्रदान नहीं करता है, लेकिन संक्रमण से लड़ने वाले एंटीबॉडी के पूरे शरीर को प्रसारित करता है। जब रक्त शरीर के किसी भी हिस्से में नहीं जाता है, तो कोशिकाएं नष्ट हो जाती हैं और संक्रमण होता है, जिसके परिणामस्वरूप ऊतक गैंगरीन द्वारा नष्ट हो जाता है। रक्त प्रवाह को प्रभावित करने वाली कोई भी समस्या गैंगरीन के खतरे को बढ़ा सकती है।

 

गैंगरीन का खतरा कब बढ़ता है?

 

कुछ शारीरिक स्थितियां और अन्य कारक हैं, जो गैंगरीन होने का खतरा बढ़ाते हैं। कुछ परिस्थितियां हैं जो आपके गैंगरीन के जोखिम को बढ़ाती हैं। इसमें शामिल है:

 

 

  • आर्टरियोस्क्लेरॉसिस

 

  • खून का जमना

 

 

  • हाल ही में एक ऑपरेशन हुआ था
  Learn What Glenn Maxwell Said About Mental Health Issues | IWMBuzz

 

  • गंभीर जलने के घाव

 

  • एक जानवर द्वारा काट लिया गया

 

  • सिर पर चोट

 

  • बाहरी धमनी की बीमारी

 

  • धूम्रपान करने के लिए

 

  • गति बढ़ाओ

 

  • शराब की लत

 

  • किसी भी बीमारी या कैंसर का इलाज करके प्रतिरक्षा प्रणाली की कमी

 

 

  • रायनौड का सिंड्रोम

 

गैंगरीन का बचाव करें

 

निम्नलिखित कुछ सुझाव हैं जो गैंगरीन के विकास के जोखिम को कम कर सकते हैं:

 

वजन घटना

 

मोटापा केवल मधुमेह के खतरे को ही नहीं बढ़ाता, साथ ही धमनियों पर दबाव, रक्त के प्रवाह में कमी, संक्रमण और घाव भरने का खतरा बढ़ाता है।

 

धूम्रपान निषेध

 

तंबाकू उत्पादों के लंबे समय तक उपयोग से रक्त वाहिकाएं क्षतिग्रस्त हो जाती हैं।

 

डायबिटीज का ख्याल रखें

 

यदि आपको मधुमेह है, तो अपने हाथों और पैरों की नियमित जांच करवाते रहें ताकि उनमें किसी भी प्रकार के खरोंच, कटने या लालिमा, सूजन और तरल पदार्थ का पता चल सके।

 

इन्फेक्शन की रोकथाम करने की कोशिश करें

 

अगर आपकी त्वचा पर किसी प्रकार का घाव है, तो उसे मुलायम साबुन से धोएं और साफ रखें। उन्हें घावों की देखभाल तब तक करनी चाहिए जब तक वे ठीक नहीं हो जाते।

 

शरीर के तापमान को ध्यान में रखा जाना चाहिए

 

ठण्ड के कारण त्वचा में गैंगरीन संक्रमण हो सकता है, क्योंकि यह प्रभावित क्षेत्र में रक्त के प्रवाह को कम करता है। यदि आपको लगता है कि शरीर का कोई हिस्सा कठोर, पीला और सुन्न हो गया है, या अधिक समय तक अत्यधिक ठंड या बर्फ के संपर्क में है, तो डॉक्टर से जल्द से जल्द मदद लेनी चाहिए।

 

 

गैंगरीन का इलाज

 

गैंगरीन के कारण नष्ट हो चुके ऊतकों को फिर से सामान्य नहीं किया जा सकता है, लेकिन स्वस्थ ऊतकों में गैंगरीन होने से कुछ उपायों को रोका जा सकता है। गैंगरीन की गंभीरता के आधार पर, आपका डॉक्टर कई अलग-अलग उपचार विधियों में से एक चुन सकता है।

  Exercising after COVID-19 can be a struggle. Here's what the experts do and don't recommend

 

यदि शरीर के किसी भी हिस्से में पर्याप्त रक्त की कमी के कारण गैंगरीन हुआ है, तो इसे रक्त वाहिकाओं की मरम्मत के लिए संचालित करना पड़ सकता है। यदि गैंगरीन किसी भी प्रकार के संक्रमण के कारण होता है, तो इसका इलाज करने के लिए शक्तिशाली एंटीबायोटिक्स दिए जाते हैं और ऑपरेशन का उपयोग भी किया जा सकता है।

 

ऑपरेशन

 

डॉक्टर खोए हुए ऊतकों को हटाने के लिए सर्जरी कर सकते हैं, ऐसा करने से गैंगरीन फैलने से रुक जाता है और क्षतिग्रस्त ऊतक ठीक होने लगते हैं। यदि संभव हो तो, डॉक्टर सर्जरी के दौरान क्षतिग्रस्त रक्त वाहिकाओं को ठीक करते हैं, जिससे प्रभावित क्षेत्र में रक्त के प्रवाह में सुधार होता है। कभी-कभी सभी हटाए गए ऊतकों को हटाने के लिए एक से अधिक बार सर्जरी करने की आवश्यकता हो सकती है।

 

अगर आपको ऊपर दिए गए लक्षण में से कोई भी लक्षण महसूस हो रहा हो तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श ले सकते है।

 

यदि आपको इससे जुड़ी कोई समस्या है और अगर आप इसका इलाज पाना चाहते हैं तो हमसे संपर्क कर सकते हैं। हमसे संपर्क करने के लिए हमारे इस व्हाट्सएप नम्बर (+91 9599004311) या हमें [email protected] पर  ईमेल कर सकते हैं।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


 

 



Source link

Leave a Comment