जाने लिंग में तनाव लाने के नेचुरल तरीके – Best Hindi Health Tips (हेल्थ टिप्स), Healthcare Blog – News


आज के समय में जैसे-जैसे लोगों की जीवनशैली बदलती जा रही है, उन्हें सेक्स से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ऐसी कई सेक्स समस्याएं हैं जो पुरुषों को काफी परेशान करती हैं। भारत जैसे देश में लोग सेक्स के मुद्दे पर खुलकर चर्चा नहीं करते, जिससे ये समस्याएं काफी बढ़ जाती हैं। पुरुषों को ऐसी समस्या का सामना करना पड़ता है कि संभोग के दौरान उनके लिंग में तनाव नहीं आ पाता है।

 

 

यह एक ऐसी स्थिति है जब बहुत से पुरुष संभोग करना चाहते हैं लेकिन उनका लिंग पूरी तरह से खड़ा नहीं होता है जिसके कारण वे संभोग नहीं कर पाते हैं। ऐसे में पुरुषों को अपने पार्टनर के सामने शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है। यह एक प्रकार का यौन रोग है जिसमें पुरुष संभोग करने में असमर्थ हो जाते हैं। इसका मतलब यह है कि लिंग में जितनी उत्तेजना होनी चाहिए। वह कम हो गई है। इस बीमारी का होना किसी भी पुरुष के लिए बहुत बुरा होता है। रिश्तों को बेहतर बनाने के लिए सेक्स को जरूरी माना जाता है। लेकिन जब पुरुष इस तरह की बीमारी से पीड़ित होते हैं तो इसका असर उनके रिश्तों पर ज्यादा पड़ता है।

 

 

 

 

 

पुरुषों में इरेक्शन की कमी के कई कारण होते हैं। यह अधिकतर आपकी जीवनशैली पर निर्भर करता है। अगर हमारी जीवनशैली खराब है तो हमें कई तरह की यौन बीमारियों से जूझना पड़ सकता है।

 

धूम्रपान

 

यदि कोई पुरुष नियमित रूप से धूम्रपान करता है तो यह न सिर्फ उसकी सेहत के लिए हानिकारक है। बल्कि ऐसा करने से उसकी सेक्सुअल लाइफ भी बर्बाद हो सकती है। जो पुरुष नियमित रूप से धूम्रपान करते हैं उन्हें कई तरह की सेक्स समस्याएं हो सकती हैं। धूम्रपान के कारण भी यौन तनाव में कमी हो सकती है।

 

 

अल्कोहल

 

यह समस्या उन लोगों में भी हो सकती है जो नियमित रूप से शराब का सेवन करते हैं। शराब के नियमित सेवन से यौन तनाव में कमी आ सकती है। यह उन लोगों के लिए हानिकारक है जो नियमित रूप से शराब का सेवन करते हैं। शराब का सेवन करने से न केवल शरीर कमजोर होता है बल्कि यौन शक्ति भी कम हो जाती है। सिर्फ शराब ही नहीं बल्कि कोई भी नशीला पदार्थ यौन समस्याओं का कारण बन सकता है। आज के समय में बहुत से लोग शराब के आदी हो गए हैं। जिसके कारण उन्हें इस तरह की समस्या का सामना करना पड़ता है।

  Venezuela COVID patients, exhausted doctors get mental health help from medical charity

 

 

तनाव

 

तनाव हमारे शरीर के साथ-साथ दिमाग पर भी असर डालता है। आज के समय में ज्यादातर लोगों को यौन समस्याएं इसलिए होती हैं क्योंकि वे बहुत अधिक तनाव लेते हैं। लोगों की जीवनशैली बहुत खराब हो गई है, जिसके कारण उन्हें तनाव महसूस होने लगा है। हालाँकि तनाव के कई कारण हैं, लेकिन आपको तनाव को कम करने का प्रयास करना चाहिए। अगर आप नियमित व्यायाम करते हैं तो भी आप स्वस्थ रह सकते हैं और तनाव से दूर रह सकते हैं।

 

 

बढ़ती उम्र

 

एक उम्र के बाद हमारे शरीर में कई तरह के बदलाव आते हैं। ये बदलाव हार्मोनल बदलाव भी होते हैं. जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, हमारे शरीर में बदलाव आते हैं। बढ़ती उम्र के साथ कई पुरुषों को कई तरह की सेक्स समस्याएं होने लगती हैं। इन्हीं सेक्स समस्याओं में से एक है लिंग में तनाव न आना। 50 साल से अधिक उम्र के पुरुषों को इस तरह की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इसके लिए आपको योग का सहारा लेना चाहिए। अगर समस्या गंभीर है तो आप डॉक्टर से भी सलाह ले सकते हैं।

 

 

 

लिंग में तनाव लाने के नेचुरल तरीके।

 

 

एक्सरसाइज

 

नियमित व्यायाम व्यक्ति के संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। ऐसे में अगर आप इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या से जूझ रहे हैं तो अपनी दिनचर्या में व्यायाम के लिए कुछ समय जरूर निकालें। हल्के व्यायाम जैसे पैदल चलना, दौड़ना और 30 मिनट तक साइकिल चलाने से भी जबरदस्त लाभ होता है।

 

 

हेल्दी डाइट

 

आप अपने आहार में फल, ताजी सब्जियां, साबुत अनाज और लीन प्रोटीन को शामिल करके यौन तनाव की कमी की समस्या को दूर कर सकते हैं। ध्यान रखें कि ज्यादा बाहर का खाना आपकी समस्या को गंभीर बना सकता है।

  No Diet Suits All: Why You Need to Optimise Nutrition as You Age, Expert Talks

 

 

कैफीन का सेवन

 

कुछ शोधों ने कैफीन की नियमित, सीमित मात्रा को बेहतर रक्त परिसंचरण से जोड़ा है। ऐसे में अगर आप इरेक्टाइल डिसफंक्शन से बचना चाहते हैं या इसका इलाज चाहते हैं तो कैफीन युक्त पेय पदार्थ जैसे ब्लैक टी, कॉफी या बिना चीनी वाली चाय का सेवन कर सकते हैं।

 

 

पर्याप्त नींद ले

 

नींद शारीरिक, भावनात्मक और यौन स्वास्थ्य को गंभीर रूप से प्रभावित करती है। ऐसे में अगर आप लिंग में कठोरता महसूस नहीं कर पा रहे हैं तो इसका कारण आपकी नींद की कमी हो सकती है। ध्यान रखें कि नियमित 7-8 घंटे की नींद सेहत के लिए सबसे अच्छी मानी जाती है।

 

 

टमाटर

 

जो पुरुष सप्ताह में लगभग 10 टमाटर खाते हैं उनमें अन्य लोगों की तुलना में प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम होता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि टमाटर में लाइकोपीन नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है जो विषाक्त पदार्थों से लड़ता है। ये जहरीले पदार्थ डीएनए कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं। एक अध्ययन के अनुसार, नियमित रूप से टमाटर का सेवन करने से शुक्राणु उत्पादन की दर को बढ़ाने में भी मदद मिलती है। इस तरह आप अपने लिंग को स्वस्थ रखने के लिए टमाटर को अपने नियमित आहार का हिस्सा बना सकते हैं।

 

 

तरबूज

 

तरबूज में (L-Citrulline) नामक तत्व अच्छी मात्रा में होता है। यह ऑर्निथिन से बना एक अमीनो एसिड है जो तरबूज में पाया जाता है। यह अमीनो एसिड आपके लिंग का आकार बढ़ाने और उसे सख्त बनाने में सहायक है। तरबूज के नियमित सेवन से यह घटक शरीर में एल-आर्जिनिन में परिवर्तित हो जाता है। जो शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन को उत्तेजित करता है। यह लिंग में रक्त के प्रवाह को बढ़ावा देता है, जिससे आपका इरेक्शन मजबूत होता है।

 

 

प्याज

 

नपुंसकता से पीड़ित पुरुषों के लिए प्याज किसी औषधि से कम नहीं है। इसमें मौजूद यौगिक न केवल कामेच्छा बढ़ाते हैं बल्कि लिंग के तनाव पर भी सकारात्मक प्रभाव डालते हैं। ऐसे में अगर आप सेक्स के दौरान खुद को लंबे समय तक इरेक्शन बनाए रखने में असमर्थ पाते हैं तो प्याज का सेवन जरूर करें।

  Health Tips: Avoid these things in case of UTI, otherwise the problem may increase

 

 

डार्क चॉकलेट

 

डार्क चॉकलेट में मौजूद फ्लेवोनोइड्स शरीर के परिसंचरण में सुधार करते हैं। ऐसे में यह इरेक्शन संबंधी समस्याओं के लिए अच्छा हो सकता है। अन्य अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि डार्क चॉकलेट में पाए जाने वाले फ्लेवोनोइड और अन्य एंटीऑक्सिडेंट रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं। आपको बता दें कि ये दोनों ऐसे कारक हैं जो इरेक्टाइल डिसफंक्शन में योगदान करते हैं।

 

 

पालक

 

पालक में फोलेट नामक विटामिन होता है, जो रक्त प्रवाह को बेहतर बनाने के लिए जाना जाता है। ऐसे में जिन पुरुषों का इरेक्शन लंबे समय तक नहीं रहता है उन्हें पालक का सेवन जरूर करना चाहिए। इसके अलावा यह टेस्टोस्टेरोन के स्तर को भी बढ़ाता है, जो यौन क्रिया में अहम भूमिका निभाता है।

 

 

केला

 

केले में पाया जाने वाला पोटैशियम शरीर में रक्त संचार को बेहतर बनाने के लिए जिम्मेदार होता है। ऐसे में अगर आप इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या से जूझ रहे हैं तो अपने आहार में केले को मुख्य रूप से शामिल करें। क्योंकि यह समस्या शरीर में खराब सर्कुलेशन का नतीजा है।

 

इससे सम्बंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें। आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


 

 



Source link

Leave a Comment