डायबिटीज के खतरे को कैसे करें कम, ताकि आपकी ज़िंदगी में न हो कोई गम – GoMedii


भारत में 29 करोड़ लोग डायबिटीज के मरीज है और यह अकड़ा बिल्कुल चौकाने वाला है, आगे आने वाले समय में यह आकड़ा और बढ़ सकता है। और इस बीमारी की सबसे बड़ी वजह है गलत जीवनशैली, मोटापा, शारीरक मेहनत न करना, ज्यादा मीठा खाना, उचित आहार न लेना, मानसिक तनाव लेना ये सभी कारण डायबिटीज के लक्षणों को बढ़ाता है। तो आज हम बताएंगे की कैसे आप डायबिटीज होने के खतरे को कम कर सकते है।

कैसे करें डायबिटीज के खतरे को कम

 

त्रिफला : जैसा की हम सब जानते है की भारत में आयुर्वेद और जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल काफी पहले से किया जाता है। डायबिटीज के लिए उन्हीं जड़ी-बूटियों में से एक है त्रिफला। आपको बता दें की त्रिफला तीन फलों का संयोजन है, आप इसका सेवन एक गिलास गर्म पानी के साथ कर सकते है। यह बेहद शक्तिशाली होता है।

 

हल्दी पाउडर : हल्दी ऐसी चीज है जो हर किसी के घर में आसानी से मिल जाती है और इसकी जगह सबके रसोई घरों में होती है। हल्दी मधुमेह के मूल कारणों को हल करने में मदद करती है, आप हल्दी को आंवले के साथ भी ले सकते है।

 

मेथी : इसका सेवन आप पाउडर के रूप में भी कर सकते है अगर आप रोज सुबह एक चम्मच मेथी का सेवन करेंगे तो ये आपके रक्त में शर्करा को नियंत्रित रखेगा है।

 

दालचीनी : दालचीनी भी डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होती है क्यूंकि ये शुगर को कंट्रोल करने में कारगर साबित होती है, आप इसका सेवन फींकी चाय में एक चम्मच मिलाकर कर सकते है या आप इसका सेवन एक कप गरम पानी में एक चम्मच मिलाकर कर सकते है।

  दालचीनी में छुपा है तंदुरुस्त होने का राज, बस ऐसे करें इस्तेमाल

 

जामुन : जामुन शरीर में डायबिटीज की मात्रा को कम करता है।आपको ये शायद ही मालूम होगा की जामुन के पत्ते, बीज और बेर ये तीनों ही चीजे शुगर का इलाज करने के लिए इस्तेमाल की जाती है।

 

तुलसी :वैसे तो हम सब जानते है की तुलसी का इस्तेमाल काफी चीजों में किया जाता है। इसकी पत्तियों में एन्टी-ऑक्सीडेंट होता है जो की शरीर में मौजूद सेल्स को इन्सुलिन के प्रति सक्रीय बनाता है।

 

नीम : नीम के पाते औषधिक गुण से भरे होते है और यह आपके आस-पास की जगहों पर आसानी से उपलब्ध भी हो जाते है। नीम भी आपके शरीर में मौजूद इन्सुलिन की मात्रा को कम करता है। वैदिक और पारंपरिक ग्रंथो में भी स्वस्थ्य सम्बंधित बीमारियों के लिए नीम का सेवन कई रोगों के लिए कारगर साबित होता है। या तो आप नीम के रस का सेवन करें या रोजाना 3 से 4 नीम की पत्तीयों का भी सेवन कर सकते है।

 

एलोवेरा : एलोवेरा का सेवन डायबिटीज के मरीज के लिए बेहद लाभदायक है। डायबिटीज के मरीजों को एलोवेरा के पत्तो को रात में एक गिलास पानी में भिगो कर रख देना चाहिए और अगले दिन सुबह उस पानी को खाली पेट पीना चाहिए। ध्यान रहे की एलोवेरा के पत्तो का सेवन सीधे न करें, यह आपकी सेहत के लिए नुकसान दायक हो सकता है।

 

 

इससे सम्बंधित किसी भी बीमारी का इलाज कराना चाहते हैं, या इससे संबंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें या आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।

  क्यों चुने: शारीरिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वास्थ्य - Best Hindi Health Tips (हेल्थ टिप्स), Healthcare Blog - News | GoMedii

 

 



Source link

Leave a Comment