पतले लोग को भी रहता है बैड कोलेस्ट्रॉल का खतरा? जानें इसके शुरुआती लक्षण…


खराब लाइफस्टाइल और खानपान के कारण कई बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. आज हम बात करेंगे बैड कोलेस्ट्रॉल का खतरा पतले लोगों को रहता है या नहीं? बैड कोलेस्ट्रॉल भी कई बीमारियों की तरह एक बीमारी है.

बैड कोलेस्ट्रॉल एक वैक्स की तरह होता है जो नसों में बैठ जाता है. यह ब्लड सर्कुलेशन को भी काफी ज्यादा प्रभावित करता है. कोलेस्ट्रॉल दो तरह के होते हैं-गुड और बैड.

बैड कोलेस्ट्रॉल एक वैक्स की तरह होता है जो नसों में बैठ जाता है. यह ब्लड सर्कुलेशन को भी काफी ज्यादा प्रभावित करता है. कोलेस्ट्रॉल दो तरह के होते हैं-गुड और बैड.

बैड कोलेस्ट्रॉल हेल्थ के लिए काफी ज्यादा खतरनाक होते हैं. शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से ब्लड को जहां पहुंचना चाहिए वहां तक ठीक से नहीं पहुंच पाता है. इसके कारण हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा भी बना रहता है.

बैड कोलेस्ट्रॉल हेल्थ के लिए काफी ज्यादा खतरनाक होते हैं. शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से ब्लड को जहां पहुंचना चाहिए वहां तक ठीक से नहीं पहुंच पाता है. इसके कारण हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा भी बना रहता है.

जो लोग सही डाइट और एक्सरसाइज नहीं करते हैं उनमें बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाताहै. बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से हाई बीपी की समस्या भी बढ़ती है. धरमनियो में प्लाक भी जमा होने लगता है. साथ ही साथ शरीर में ऑक्सीजन की कमी होने लगती है.

जो लोग सही डाइट और एक्सरसाइज नहीं करते हैं उनमें बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाताहै. बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से हाई बीपी की समस्या भी बढ़ती है. धरमनियो में प्लाक भी जमा होने लगता है. साथ ही साथ शरीर में ऑक्सीजन की कमी होने लगती है.

हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक शरीर में 150 से ज्यादा कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगता है तो वह शरीर के लिए काफी ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है.

हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक शरीर में 150 से ज्यादा कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगता है तो वह शरीर के लिए काफी ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है.

Published at : 28 Mar 2024 07:33 PM (IST)

हेल्थ फोटो गैलरी

हेल्थ वेब स्टोरीज



Source link

  Health Tips: These 4 things will drive away stress and anxiety, definitely consume them

Leave a Comment