पेशाब की थैली में सूजन का इलाज और जाने इसका लक्षण कारण? | Peshab ki thaili me sujan ka ilaj in hindi – GoMedii


पेशाब की थैली हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है जिसमें पेशाब एकत्रित होता है। पेशाब में किसी प्रकार के संक्रमण के कारण इसकी परत सूज जाती है और मोटी हो जाती है। इस स्थिति को मेडिकल भाषा में ब्लैडर की दीवार का मोटा होना कहते हैं। अधिक समय तक मूत्राशय में पेशाब जमा रहने के कारण इसकी दीवार में सूजन और इस कारण अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं।

 

इसके अलावा और भी कई कारण इसके लिए जिम्मेदार होते हैं। शुरुआत में मूत्राशय की दीवार में सूजन या मोटा होने के लक्षण दिखने पर इसका आसानी से इलाज किया जा सकता है, लेकिन लंबे समय तक इस समस्या के बने रहने के कारण और भी कई समस्याएं हो सकती हैं। मूत्राशय की दीवार का मोटा होना या सूजन होने के लक्षण क्या हैं और इस समस्या का इलाज कैसे किया जाता है? हम आपको इसके बारे में बताएंगे।

 

 

 

 

पेशाब की थैली में सूजन का इलाज (Treatment of inflammation in the urinary in Hindi)

 

ब्लैडर की दीवार में सूजन होने की समस्या के इलाज के लिए डॉक्टर सबसे पहले यूरिन की जांच करते हैं। इस टेस्ट में संक्रमण व अन्य चीजों की जांच की जाती है। इसके बाद मरीज की स्थिति के आधार पर इलाज किया जाता है। यदि समस्या कैंसर के कारण हो रही है, तो रोगी की पेशाब की थैली में सूजन के लिए जांच की जा सकती है। आमतौर पर इलाज के लिए एंटीबायोटिक्स की सलाह देते हैं। प्रत्येक रोगी के लिए उपचार समस्या के कारण और उसके लक्षणों के आधार पर भिन्न हो सकता है। अगर इस समस्या के लक्षण दिखाई दें तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। इसके लिए आप हमारे डॉक्टर से भी संपर्क कर सकते हैं, डॉक्टर से सलाह लेने के लिए यहाँ क्लिक करें

  Railpen to fund NHS mental health facility

 

यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप दवा लेने के लिए अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता के निर्देशों का पालन करें। एंटीबायोटिक लेना बंद न करें क्योंकि आपके लक्षण दूर हो जाते हैं और आप बेहतर महसूस करने लगते हैं। यदि संक्रमण का पूरी तरह से एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इलाज नहीं किया जाता है, तो यह वापस आ सकता है। इसलिए इसका इलाज पूरी तरह से किया जाता बहुत जरुरी है ताकि आने वाले समय में आपको दोबारा इस बीमारी का सामना न करना पड़े।

 

 

पेशाब की थैली में सूजन के लक्षण (symptoms of inflammation in the urinary sac in Hindi)

 

मूत्राशय की दीवार में सूजन या मोटा होने के कारण आपको पेशाब करते समय परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। पेशाब करते समय आपको अधिक जोर लगाना पड़ सकता है। इसके अलावा इस समस्या में पेशाब से जुड़ी आदतों में भी बदलाव देखने को मिलता है। मूत्राशय की दीवार में सूजन या मोटा होना के मुख्य लक्षण इस प्रकार हैं।

 

  • पेशाब के रंग में बदलाव (Change in urine color)

 

  • पीठ और पेट के निचले हिस्से में दर्द होना (Lower back and abdominal pain)

 

  • बार-बार बुखार आना (Recurring fever)

 

  • मूत्र पथ में संक्रमण

 

  • पेशाब करते समय दर्द होना (pain while urinating)

 

  • पेशाब की गंध (smell of urine)

 

  • पेशाब करने में कठिनाई होना (difficulty urinating)

 

 

पेशाब की थैली में सूजन का निदान कैसे किया जाता है? (How is inflammation in the urinary sac diagnosed in Hindi)

 

पेशाब की थैली में सूजन का निदान कैसे किया जाता है? (How is inflammation in the urinary sac diagnosed in Hindi)

 

  • अल्ट्रासाउंड: इस टेस्ट में, ध्वनि तरंगें आंतरिक अंगों की एक छवि बनाती हैं। यह टेस्ट त्वचा के ऊपर किया जाता है और इसमें दर्द नहीं होता है और इसके लिए आमतौर पर किसी तैयारी की आवश्यकता नहीं होती है।
  प्रेग्नेंसी में अल्ट्रासाउंड कितनी बार करवाना है सही, जानें कब और कैसे करवाएं सोनोग्राफी

 

  • सिस्टोस्कोपी: यह टेस्ट मूत्रमार्ग से मूत्राशय के अंदर देखने के लिए एक लेंस और एक प्रकाश स्रोत (सिस्टोस्कोप) के साथ लगे एक विशेष उपकरण का उपयोग करता है।

 

  • सीटी स्कैन: एक अन्य इमेजिंग टेस्ट, सीटी स्कैन एक प्रकार का एक्स-रे है जो शरीर के क्रॉस सेक्शन (जैसे स्लाइस) लेता है। यह टेस्ट सामान्य एक्स-रे की तुलना में बहुत अधिक सटीक है।

 

 

पेशाब की थैली में सूजन के कारण? (Causesto swelling in the urinary sac in Hindi)

 

पेशाब की थैली में सूजन के कारण? (Causesto swelling in the urinary sac in Hindi)

 

पेशाब की थैली में सूजन तब हो सकती है जब पेशाब अधिक समय से रोक रखा हो। पेशाब की थैली में सूजन होने के मुख्य कारण इस प्रकार हैं:

 

 

 

  • असामान्य रूप से ऊतको में वृद्धि

 

  • यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI)

 

 

पेशाब की थैली में सूजन से बचने के उपाय (Remedies to avoid swelling in the urinary sac in Hindi)

 

ऐसे कई उपाय हैं जो को पेशाब की थैली में सूजन को रोकने में मदद करते हैं। यदि आप इसके जोखिम को कम करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको नीचे बताई गई इन बातों का ध्यान रखें होगा, इसमें शामिल हैं :

 

  • मूत्रमार्ग से बैक्टीरिया को बाहर निकालने के लिए सेक्स के बाद पेशाब करें

 

  • गर्भ निरोधकों गोलियों का सेवन ना करे

 

  • अपने जननांगों को नियमित रूप से और धीरे से साबुन और पानी से धोएं

 

  • सही तरीके से स्वच्छता उत्पादों का उपयोग न करें

 

  • हमेशा आगे से पीछे की ओर पोंछें

 

  • पानी का सेवन अधिक करें
  काजू खाने से वजन बढ़ता है या फिर घटता है? आप भी पढ़िए बॉडी पर ये कैसे करता है असर

 

  • पर्याप्त नींद लें और तनाव लेने से बचें

 

  • प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए अच्छा खान पान का सेवन करें

 

यदि आपको पेशाब की थैली में सूजन के कोई भी लक्षण महसूस होते हैं और आप इसका इलाज करवना चाहते हैं तो GoMedii  के माध्यम से आप संपर्क कर सकते हैं। हमसे संपर्क करने के लिए यहाँ क्लिक करें या आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


 

 



Source link

Leave a Comment