पेशाब की नली में सूजन का इलाज – Best Hindi Health Tips (हेल्थ टिप्स), Healthcare Blog – News


पेशाब के संक्रमण के कई प्रकार हैं जैसे कि युरेथराइटिस, यूरिनरी इंकॉन्टेनन्स, ऊर्जे इंकॉन्टेनन्स, ओवरफ्लो इंकॉन्टेंट्स, टोटल इंकॉन्टेनन्स, फंक्शनल इंकॉन्टेनन्स, मिक्स्ड इंकॉन्टेनन्स ये सभी पेशाब की नली से सम्बंधित संक्रमण हैं। आपको बता दें कि एक व्यक्ति को एक ही समय में एक से अधिक प्रकार के संक्रमण का अनुभव कर सकते हैं।

महिलाओं और पुरुषों दोनों में मूत्र संक्रमण होने की संभावना होती है। 100% लोगों में से, 80% लोगों को किसी न किसी समय यह समस्या होती है। पेशाब में संक्रमण या अतिरिक्त रक्त (वह स्थान जहाँ मूत्र इकट्ठा होता है) से सूजन हो जाती है, जिससे रोगी के मूत्र में दर्द, दर्द और जलन होती है। इसके साथ, रोगी में पेशाब की बूंद गिरने जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।

 

सभी के लिए पेशाब करना एक प्राकृतिक प्रक्रिया है। डॉक्टरों का कहना है कि जब भी पेशाब आए तो उसे ज्यादा देर तक रोकना नहीं चाहिए। क्योंकि इससे शरीर को नुकसान होने का खतरा रहता है। कुछ लोगों को पेशाब करते समय जलन या दर्द की समस्या होती है। इस समस्या के कई कारण हो सकते हैं। इस जलन के पीछे कोई एक कारण नहीं है आइए आपको बताते हैं इसके पीछे क्या कारण हैं ?

 

 

पेशाब की नली में सूजन के कारण

 

 

  • मूत्राशय में जलन

 

  • मूत्र नली में मूत्रमार्ग में सूजन

 

  • कोरियोन का विरूपण

 

 

  • यक्ष्मा के कारण मूत्राशय में गांठ

 

 

  • यूरिन इन्फेक्शन का मुख्य कारण है

 

 

पेशाब की नली में सूजन के लक्षण

 

  • आंतरायिक पेशाब
  Side Effects of Excessive Sleeping: Sleeping more than necessary can be heavy on health

 

 

  • पीला मूत्र

 

  • पेशाब के दौरान जलन होना

 

 

पेशाब की सूजन का इलाज घरेलू उपचार द्वारा।

 

तुलसी: तुलसी के पत्तों को मिश्री के साथ मिलाकर बार-बार पीने से मूत्राशय की जलन के रोग में लाभ होता है।

 

जंगली अजमोद: जंगली अजमोद का काढ़ा सिरका और शहद के साथ मिलाकर नाभि के नीचे सूजन और दर्द को ठीक करता है।

 

चंदन: बेताशे पर चंदन के तेल की 5 से 15 बूंदें डालकर दिन में 3 बार खाने से मूत्राशय की जलन ठीक हो जाती है।

 

गुग्गुल: लगभग आधा से एक ग्राम गुग्गुल गुड़ के साथ लेने से मूत्राशय की सूजन समाप्त हो जाती है।

 

लोबान: लगभग आधा से एक ग्राम लोबान को बादाम और गोंद के साथ सुबह-शाम लेने से पेशाब में आराम मिलता है।

 

शिलारस: गिलोय के साथ शिलारस का आधा से एक ग्राम सुबह-शाम सेवन करने से मूत्राशय की सूजन और पेशाब की जलन ठीक हो जाती है।

 

गाथिबान (बंटुलसी): गितिबन (बंटुलसी) के पत्तों को पीसकर मूत्राशय की सूजन पर लगाएं।

 

दालचीनी: आधा ग्राम दालचीनी का चूर्ण दूध के साथ या आधा ग्राम फिटकरी के साथ रोजाना तीन बार खाने से मूत्राशय की सूजन ठीक हो जाती है। इस पेस्ट को नाभि के नीचे लगाने से फायदा होता है।

 

छोटे गोखरू: छोटे गोखरू का काढ़ा दिन में दो बार लेने से मूत्राशय की सूजन में आराम मिलता है।

 

अपराजिता: मूत्राशय की सूजन में अपराजिता का फांट या घोल दिन में दो बार खाने से लाभ होता है।

  30-Minute Core-Focused Pilates Workout With Khetanya Henderson | POPSUGAR FITNESS

 

अतीबाला: 4 से 8 ग्राम अतीबला के बीजों को सुबह-शाम खाने से नाभि के सभी रोग और सूजन ठीक हो जाते हैं।

 

कुश: कुश की जड़ को 3 से 6 ग्राम की मात्रा में पीसकर सुबह-शाम पीने से मूत्राशय से संबंधित सभी रोग दूर हो जाते हैं।

 

डाभी: 3 से 6 ग्राम दाबजी की जड़ को पीसकर सुबह-शाम पीने से मूत्राशय के सभी रोग समाप्त हो जाते हैं।

 

हरिदूब: हरिदूब की जड़ का 40 ग्राम काढ़ा सुबह और शाम लेने से जलन और पेशाब की सूजन समाप्त हो जाती है।

 

ग्वारपाठा की जड़: 40 ग्राम चूर्ण या ग्वारपाठा की जड़ का घोल सुबह-शाम लेने से मूत्राशय की सूजन समाप्त हो जाती है।

 

अपामार्ग: अपामार्ग की जड़ 5 ग्राम से 10 ग्राम या 15 ग्राम से लेकर 50 ग्राम तक काढ़ा दिन में दो बार पीने से मूत्राशय की सूजन और सूजन समाप्त होती है।

 

तालमखाना: तालमखाना की जड़ का 40 ग्राम काढ़ा या 2 से 4 ग्राम बीज सुबह-शाम दूध के साथ लेने से मूत्राशय की सूजन समाप्त हो जाती है।

 

पाताल गरूड़ी: पाताल गरूड़ की 3 से 6 ग्राम जड़ को सुबह और शाम देने से मूत्राशय की सूजन समाप्त होती है।

 

खलिहान की छाल: 20 ग्राम से 40 ग्राम काढ़ा, बरन की छाल, अपामार्ग, पुनर्नवा, यवक्षार, गोखरू, मुलेठी को मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने से मवाद दर्द, मधुमेह, मूत्रकृच्छ (पेशाब) का इलाज होता है। जलन या उससे पीड़ित) रोगों में फायदेमंद है।

 

खीरा: आधा से 10 ग्राम खीरे के बीजों को पीसकर सिरप की तरह रोजाना 2 और 3 बार पीने से मूत्राशय का दर्द ठीक हो जाता है।

  Apple health VP in India next month, to share how healthtech is empowering millions, Health News, ET HealthWorld

 

यदि आपको इससे सम्बंधित किसी भी तरह की समस्या है तो आप यहाँ क्लिक करें। इसके अलावा आप पेशाब की नली में सूजन का इलाज करवाना चाहते हैं तो हम आपको कम कीमत पर इसका इलाज करवाएंगे। अगर आप इलाज करवाना चाहते हैं तो हमसे संपर्क कर सकते हैं। हमसे संपर्क करने के लिए मारे इस व्हाट्सएप नम्बर (+91 9599004311) या हमें [email protected] पर  ईमेल कर सकते हैं।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


 

 



Source link

Leave a Comment