बच्चो में कैल्शियम की कमी होने पर क्या करे | baccho me calcium ki kami – GoMedii


आजकल के समय में बच्चो के अंदर कैल्शियम की कमी अधिक देखी जा रही हैं, इसलिए बच्चो के खान-पान का भी अधिक ध्यान रखना चाहिए। कैल्शियम सभी के शरीर के लिए अधिक आवश्यक होता हैं जो की हड्डियों को मजबूत करता हैं। कैल्शियम शरीर में मांसपेशियों और नसों को क्रियाशील बनाए रखने का कार्य करता है। कैल्शियम की कमी होने से बच्चों की हड्डियों व दांतों के साथ ही कई तरह के रोग होने की संभावना बढ़ जाती है। बच्चों के लिए रोजाना की डाइट में कैल्शियम से भरपूर खाद्य पदार्थ अवश्य शामिल करने चाहिए।

 

 

बच्चों के लिए कैल्शियम क्यों जरुरी हैं और कितनी मात्रा में।

 

 

कैल्शियम बच्चों की हड्डियों के निर्माण और मजबूती के लिए अधिक जरुरी होता हैं। यदि बच्चों के अंदर कैल्शियम की भरपूर मात्रा होती हैं उन्हें हड्डियों से सम्बंधित किसी भी बीमारी का सामना नहीं करना पड़ता। बच्चों की ग्रोथ के लिए कैल्शियम के साथ ही अन्य पोषक तत्व की पर्याप्त मात्रा की आवश्यकता होती है। माना जाता हैं की 1 से 3 वर्ष के बच्चों को रोजाना करीब 700 मिलीग्राम कैल्शियम की जरूरत होती है, वहीं 4 से 8 उम्र के बच्चों को 1000 मिलीग्राम व 9 से ज्यादा बड़े बच्चों को करीब 1300 मिलीग्राम की जरूरत पड़ती है।

 

 

 

बच्चों के अंदर कैल्शियम की कमी के क्या लक्षण नज़र आते हैं ?

 

 

कैल्शियम की कमी के लक्षण बच्चों के अंदर सामान्य होते हैं, परन्तु यह गंभीर बीमारी के संकेत भी हो सकते हैं इसलिए इन्हे नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए। बच्चों के अंदर कैल्शियम की कमी के लक्षण कुछ इस प्रकार हैं –

  Cyberthreats the flip side of India’s healthcare digitalisation - ET HealthWorld

 

 

 

  • दाँतों में तेज़ दर्द या दाँतों का कमज़ोर होना

 

  • कमज़ोर हड्डियाँ

 

  • थकान और कमज़ोरी

 

  • दिल की धड़कन बढ़ना

 

 

 

 

कैल्शियम की कमी होने पर बच्चों को क्या खाना चाहिए ?

 

 

कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए बच्चों को कुछ इस प्रकार के खाद्य पदार्थो का सेवन करना चाहिए जैसे की-

 

 

  • बादाम: हेल्दी फैट्स का स्रोत माना जाने वाला बादाम कैल्शियम का भी अच्छा स्रोत है। बादाम का सेवन करने से पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है।

 

  • हरी सब्जियां: पत्तेदार सब्जियों में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स की अधिक मात्रा होती है। साथ ही कैल्शियम की भी अच्छी मात्रा इन सब्जियों में मौजूद होती हैं। इसीलिए, अपनी डाइट में आप पालक, मेथी, हरी प्याज, केल और चौलाई जैसी सब्जियों का सेवन कर सकते हैं।

 

  • दूध: कैल्शियम की कमी की समस्या में बच्चों को दूध का सेवन अवश्य करना चाहिए। दूध में कैल्शियम के अलावा प्रोटीन, विटामिन ए और विटामिन डी भी पाया जाता है।

 

  • मछली: मछली हमारे शरीर के लिए विभिन्न पोषक तत्व हासिल करने का बड़ा ही बेहतरीन स्त्रोत है। मुख्य रूप से बात की जाए कैल्शियम की, सार्डिन्स और केन्ड साल्मन में इसकी भरपूर मात्रा देखने को मिल जाती है।

 

  • अंजीर: कैल्शियम के लेवल को बढ़ाने के लिए ड्राई फ्रूट्स में अंजीर का सेवन बच्चों के लिए अधिक लाभदायक होता हैं।

 

  • योगर्ट: कैल्शियम का बढ़िया स्त्रोत माना जाता है। सादा योगर्ट के अंदर अच्छी मात्रा में कैल्शियम की उपस्थिति होती है जो की बच्चों के लिए अधिक फायदेमंद होती हैं।
  How To Fix Sore Muscles: Get Rid Of Pain After Workout

 

  • ओरेंज जूस: ओरेंज जूस भी कैल्शियम हासिल करने का बेहतरीन होता है। जूस का सेवन करने से बच्चों को कैल्शियम के साथ-साथ कुछ विटामिन्स भी प्राप्त होते हैं।

 

 

इससे सम्बंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें। आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


 

 



Source link

Leave a Comment