बोन मैरो कैंसर के लक्षण।


आजकल के समय में कैंसर की बीमारी तेजी से फ़ैल रही हैं, कैंसर अन्य प्रकार के होते हैं और कैंसर की बीमारी तब होती है जब कोशिकाएं अनियंत्रित होकर बढ़ने लगती हैं इन्हीं में एक बोन मेरो कैंसर होता हैं। बोन मेरो हड्डियों के बीच में एक मुलायम और स्पॉजी टिशू होता है। इसमें ब्लड बनाने वाली कोशिकाएं होती हैं, जिसे स्टेम सेल्स कहते हैं। यही सेल रेड ब्लड सेल्स, व्हाइट ब्लड सेल्स और प्लेटलेट्स को विकसित करते हैं। इसी सेल में होने वाले कैंसर को बोन मेरो कैंसर कहते हैं।

 

बोन मेरो कैंसर के प्रकारों में, मल्टीपल मायलोमा, ल्यूकेमिया और लिम्फोमा शामिल हैं। इसमें से हर एक कैंसर विभिन्न ब्लड सेल्स को प्रभावित करता है, और प्रत्येक के अलग-अलग विशेषताएँ, लक्षण हैं और उपचार विकल्प भी सबके लिए अलग हैं।

 

 

 

 

 

  • मल्टीपल मायलोमा – यह सबसे सामान्य तरह का बोन मेरो कैंसर होता है जो प्लाज्मा सेल्स को प्रभावित करता है।

 

  • ल्यूकीमिया – व्हाइट ब्लड सेल्स को प्रभावित करने वाले सेल्स को ल्यूकीमिया कहा जाता है।

 

  • लिम्फोमा – लिम्फ नोड्स को प्रभावित करने वाली स्थिति को लिम्फोमा कहा जाता है।

 

 

 

बोन मेरो कैंसर के लक्षण क्या होते हैं ?

 

 

 

बोन मेरो कैंसर के तीन प्रकार होते हैं तथा तीनों के लक्षण अलग-अलग होते हैं जैसे की –

 

(I) मल्टीपल मायलोमा (Multiple myeloma) के लक्षण।

 

 

  • बार-बार प्यास लगना

 

  • बार-बार टॉयलेट आना

 

 

 

 

 

 

 

(II) ल्यूकेमिया (Leukemia) के लक्षण।

 

  how many calories should you get to lose weight

 

  • शरीर का तापमान बढ़ना या बुखार

 

  • कमजोरी महसूस करना

 

  • बार-बार इंफेक्शन होना

 

  • अत्यधिक पसीना आना

 

  • रात के समय ज्यादा पसीना आना

 

  • हड्डियों में दर्द रहना

 

 

 

(III) लिम्फोमा (Lymphoma) के लक्षण।

 

 

  • शरीर में सूजन आना

 

  • भूख नहीं लगना या पेट भरा हुआ महसूस करना

 

 

  • शरीर पर निशान पड़ना

 

 

  • रात के वक्त पसीना आना

 

  • शरीर में इचिंग होना या रैशेसज पड़ना

 

  • ठंड लगना और बुखार आना

 

  • वजन का अत्यधिक कम होना

 

  • नसों में दर्द होना

 

  • शरीर सुन्न पड़ना या झुनझुनी होना

 

 

बोन मेरो कैंसर के कारण क्या है?

 

 

  • केमिकल्स, क्लीनिंग प्रोडक्ट्स या एग्रीकल्चर प्रोडक्ट्स के संपर्क में आना।

 

 

  • एचआईवी, हेपेटाइटिस, रेट्रोवायरस या हर्पिस वायरस के कारण।

 

 

  • जेनेटिक हिस्ट्री के कारण।

 

 

  • धूम्रपान करना।

 

  • अत्यधिक एल्कोहॉल का सेवन।

 

  • शरीर का वजन सामान्य से अधिक बढ़ना।

 

 

बोन मेरो कैंसर का इलाज किस प्रकार होता हैं ?

 

 

बोन मेरो कैंसर का पता चलने पर इसका इलाज संभव होता हैं परन्तु इसका अधिक बढ़ जाना घातक और जानलेवा साबित हो सकता हैं। यदि मरीज बोन मेरो कैंसर के इलाज के लिए डॉक्टर के पास जाता हैं तो डॉक्टर के अनुसार बोन मैरो कैंसर के इलाज के लिए विकल्प होते हैं जैसे की।

 

 

  • कीमोथेरेपी: बोन मेरो कैंसर में कीमोथेरेपी कैंसर सेल्स को नष्ट करने या उन्हें बढ़ने से रोकने के लिए दवाइयों के उपयोग से की जाती हैं। इस उपचार के विकल्प का उपयोग अकेले या अन्य विकल्पों के साथ किया जा सकता है।
  व्रत के दौरान लो फील होता है? ये गलतियां कभी नहीं करें, नहीं तो भुगतना पड़ेगा खमियाजा

 

  • रेडिएशन थेरेपी: रेडिएशन थेरेपी में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकने के लिए या उन्हें नष्ट करने के लिए उच्च ऊर्जा किरणों का उपयोग किया जाता है। इसका उपयोग कीमोथेरेपी के साथ या स्टेम सेल प्रत्यारोपण से पहले किया जा सकता है।

 

  • स्टेम सेल प्रत्यारोपण: इस विकल्प में क्षतिग्रस्त या रोगग्रस्त बोन मेरो को स्वस्थ बोन मैरो सेल्स से बदल दिया जाता हैं।

 

  • टार्गेटेड थेरेपी: टार्गेटेड थेरेपी का उपयोग कीमोथेरेपी की तरह ही किया जाता हैं इसमें कैंसर कोशिकाओं को लक्षित कर, उन्हें नष्ट करने के लिए दवाइयों या अन्य पदार्थों का उपयोग किया जाता है।

 

  • इम्यून थेरेपी: कैंसर से लड़ने के लिए शरीर के इम्यून सिस्टम का उपयोग किया जाता है। इसमें कैंसर से लड़ने के लिए, प्रतिरक्षा प्रणाली की क्षमता को बढ़ाने के लिए, मानव निर्मित प्रतिरक्षा प्रणाली प्रोटीन का उपयोग किया जाता है।

 

 

 

बोन मेरो कैंसर के इलाज के लिए अच्छे अस्पताल –

 

 

बोन मेरो कैंसर के इलाज के लिए दिल्ली के अच्छे अस्पताल।

 

 

 

बोन मेरो कैंसर के इलाज के लिए गुरुग्राम के अच्छे अस्पताल।

 

 

 

बोन मेरो कैंसर के इलाज के लिए ग्रेटर नोएडा के बेस्ट अस्पताल।

 

  • शारदा अस्पताल ,ग्रेटर नोएडा
  • यथार्थ अस्पताल , ग्रेटर नोएडा
  • बकसन अस्पताल ग्रेटर नोएडा
  • जेआर अस्पताल ,ग्रेटर नोएडा
  • प्रकाश अस्पताल ,ग्रेटर नोएडा
  • शांति अस्पताल , ग्रेटर नोएडा
  • दिव्य अस्पताल , ग्रेटर नोएडा

 

 

यदि आप बोन मेरो कैंसर का इलाज कराना चाहते हैं, या इससे सम्बंधित किसी भी समस्या का इलाज कराना चाहते हैं, या कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें। इसके अलावा आप प्ले स्टोर (play store) से हमारा ऐप डाउनलोड करके डॉक्टर से डायरेक्ट कंसल्ट कर सकते हैं। आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311)  पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमे [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।

  गर्मी में जिम जाकर पसीना बहाने का नहीं है मन, तो बेफिक्र होकर पूल में कीजिए फन

 

 



Source link

Leave a Comment