भूलकर भी न इग्नोर करें शरीर के 6 संकेत, ये है ब्लड शुगर बढ़ने का इशारा


Blood Sugar Signs: डायबिटीज (Diabetes) एक लाइलाज बीमारी है. इसे कंट्रोल रखकर ही बेहतर लाइव जिया जा सकता है. ब्लड शुगर का लेवल हाई होने से शुगर के मरीजों को बार-बार प्यास लगना, पेशाब आना, थकान, धुंधला दिखाई देना और बिना किसी कारण वजन कम होने जैसी समस्याएं हो सकती हैं. ब्लड शुगर का हाई होना (High Blood Sugar) शरीर में छोटी रक्त वाहिकाओं के लिए खतरा बन सकता है. इससे उन्हें नुकसान पहुंचता है. ब्लड शुगर का बढ़ना जानलेवा भी हो सकता है. हालांकि, ब्लड शुगर लेवल बढ़ने के संकेत पहले ही शरीर पर दिखने लगते हैं. जिन्हें अगर सही समय पर पहचान लिया जाए तो समस्याओं को पहले ही कंट्रोल किया जा सकता है.

 

1. धुंधला दिखाई देना

एक्सपर्ट्स के अनुसार, जब ब्लड शुगर लेवल हाई होता है तो रेटिना में रक्त वाहिकाएं प्रभावित होने लगती हैं. जिससे आंखों से जुड़ी कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं. इसमें धुंधला नजर आता है, मोतियाबिंद की शिकायत हो सकती है. इसके अलावा ग्लूकोमा और डायबिटिक रेटिनोपैथी शामिल हैं. ऐसे में डॉक्टर से तुरंत बात करनी चाहिए.

 

2. पैरों में सनसनी या चोट न ठीक होना

शुगर लेवल बढ़ने पर पैर दो तरह के प्रभावित होते हैं. पहला- पैर में किसी तरह की सनसनी भी महसूस हो सकती है. दूसरा- पैरों में ब्लड फ्लो सही से नहीं होता है. आपके लिए पैरों की चोट को ठीक करना मुश्किल हो जाता है.

 

3. नसों में समस्याएं

ब्लड शुगर हाई होने से तंत्रिका तंत्र को नुकसान पहुंच सकता है. इसे डायबिटिक न्यूरोपैथी भी कहते हैं. इसमें सुन्नता या दर्द जैसी समस्याएं हो सकती हैं. इसके अलावा झुनझुनी, जलन, तेज दर्द और ऐंठन जैसे लक्षण भी दिख सकते हैं.

  Diabetes patients should use these oils and spices, blood sugar will remain under control

 

4. बार-बार पेशाब लगना

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, किडनी में छोटी रक्त वाहिकाएं होती हैं जो इसके कामकाज को बढ़ा देती हैं. हाई ब्लड शुगर लेवल इन वाहिकाओं को नुकसान पहुंचा सकता है, जिससे किडनी की बीमारी हो सकती है. ऐसे में बार-बार पेशाब आना, पेशाब में प्रोटीन, पैरों, टखनों, हाथों और आंखों में सूजन होना, मतली, उल्टी और थकान जैसी समस्याएं हो सकती हैं.

 

5. स्ट्रोक या हार्ट डिजीज

ब्लड शुगर हाई होने से रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंच सकता है. जिसकी वजह से स्ट्रोक और हार्ट डिजीज का खतरा कई गुना बढ़ जाता है. ऐसे में दिल से जुड़ी कोई समस्याएं नजर आएं तो तुरंत डॉक्टक के पास जाना चाहिए.

 

6. मसूड़ों से खून निकलना

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, मसूड़ों की बीमारी यानी पेरियोडोंटल बीमारी भी हाई ब्लड शुगर की वजह से हो सकती है. इससे रक्त वाहिकाओं के बंद या गाढ़े होने से मसूड़ों में ब्लड फ्लो कम हो जाता है. जिससे मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं. इसकी वजह से बैक्टीरिया बढ़ता है, जो मसूड़ों की बीमारी का कारण बन जाता है. इनमें मसूंड़ों से खून आना, मसूड़ों में कमजोरी और दर्द जैसी समस्याएं होने लगती हैं.

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

Leave a Comment