समर टिप्स फॉर किड्स इन हिंदी। – GoMedii


गर्मियों के मौसम में छोटे बच्चों का अधिक ध्यान रखना चाहिए क्योंकि गर्मियों में ही बीमारी होने का खतरा अधिक रहता हैं। छोटे बच्चों पर सबसे ज्यादा ध्यान देने की जरुरत होती हैं क्योंकि वह अपना कोई काम करने में सक्षम नहीं होते हैं। बच्चों की इम्युनिटी स्ट्रांग न होने की वजह से उन्हें संक्रमण जल्दी होते हैं तथा अधिक गर्मी की वजह से बच्चे लू लगने, त्वचा से जुड़ी समस्या से परेशान हो सकते हैं इसलिए सभी को अपने बच्चों का ध्यान रखना आवश्यक होता हैं।

 

गर्मी का मौसम छोटे बच्चों के लिए खतरनाक होता हैं। तेज धूप में स्कूल से आना या फिर स्कूल से लौटना, बाहर खलेना तथा यात्रा करना बच्चों की सेहत के लिए अच्छा नहीं होता हैं बच्चों की त्वचा कोमल होती हैं और बढ़ते-घटते तापमान का असर उन पर जल्दी पड़ता हैं ऐसे में अगर बच्चे घर से बाहर निकलते हैं तो उन्हें डिहाइड्रेशन, सनबर्न , विषाक्त भोजन जैसे कई बीमारियों का खतरा होता हैं। बच्चों की स्वस्थ को अनदेखा नहीं किया जा सकता। इसलिए गर्मी के मौसम में बच्चों को बाहर ले जाते समय कई बातों का ध्यान रखना चाहिए।

 

 

 

 

 

  • तेज गर्मी में घूमने ये खेलने से बच्चों का स्वास्थ्य ख़राब हो जाता हैं। ऐसे में बच्चों को लिक्विड डाइट ज्यादा देनी चाहिए जैसे की फ्रूट जूस, नारियल पानी, शरबत, छाछ, नींबू पानी जिसे की बच्चा लम्बे समय तक हाइड्रेट रहें।

 

  • बच्चों का टिफ़िन पैक करते समय उससे कभी भी बासी या रात का बचा हुआ खाना न दें। तापमान ज्यादा होने के कारण बासी खाना जल्दी ख़राब हो जाता हैं। बच्चों के टिफ़िन में हल्का खाना रखे जैसे की जैसे- सैंडविच, पास्ता, सब्जी, रोटी, पराठा, खिचड़ी, फ्रूट्स आदि। इस मौसम में बच्चों को अधिक मसालेदार वाला खाना नहीं पचता जैसे की छोले, बीन्स, मैदे से बनी चीजें, चाउमीन, बर्गर आदि न दें क्योकि ये सब खाने से बच्चे बीमार हो जाते हैं।
  It only takes 20 minutes to build upper body strength and muscle with this workout

 

  • पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए बच्चों को हरी सब्जियां भी खिलानी चाहिए। इससे बच्चों को सभी जरूरी पोषक तत्व मिल जाते हैं, जिससे बच्चों का शारीरिक और मानसिक विकास सही तरीके से होता है। बच्चों की डाइट में सब्जियों का सूप शामिल किया जा सकता है।

 

  • गर्मी के मौसम में दही को बच्‍चों की डाइट में जरूर शामिल करें. इससे जहां बच्‍चे चाव से खाएंगं वहीं इससे उनका हाजमा भी अच्‍छा रहेगा। साथ ही वे लू से भी बचे रहेंगे।

 

 

 

गर्मियों के मौसम में किन बातों का ध्यान रखें।

 

 

  • खेलने की गतिविधियां (Playing Activities): सर्दी हो या गर्मी बच्चों को तो खेलने से मतलब होता है ऐसे में आप उनकी गतिविधियों का ध्यान रखें। दोपहर के समय जब तेज़ गर्मी या लू चले तो उन्हें खेलने न दें और बाहर तो बिलकुल न निकलने दें।

 

  • नहाने का समय (Bath Time): बच्चों को गर्मियों के मौसम में दोपहर के समय ही नहलाएं, ज़्यादा सुबह या ज़्यादा शाम को नहलाने से उन्हें सर्दी-गर्मी हो सकती है। वहीं दिन के समय नहलाने से उन्हें गर्मी से भी राहत मिलेगी।

 

  • सफाई का ध्यान (Cleaning Care): बच्चों को नहाने के साथ ही समय-समय पर हाथ मुंह भी धोते रहें। इससे आप उन्हें किसी भी तरह के इंफेक्शन और वायरस से बचा पाएंगे।

 

  • सही तापमान(Right Temperature): बच्चे जिस कमरे में रहें उस कमरे का तापमान न तो ज़रूरत से ज़्यादा ठंडा होना चाहिए और न ही ज़्यादा गर्म। तापमान को बैलेंस करके रखें। तापमान का बच्चों के मूड से बहुत बड़ा कनेक्शन होता है। जिसे हम कई बार समझ नहीं पाते है। रूम में तापमान का ध्यान रखने के साथ ही वेंटिलेशन भी अच्छा होना चाहिए। उनकी बेडशीट भी सूती कपड़े की होनी चाहिए।
  Cher shares her intense fitness routine with fans

 

  • त्वचा की देखभाल(Skin Care): बच्चों की स्किन सबसे ज़्यादा संवेदनशील होती है ऐसे में डॉक्टर से सलाह लेकर ही स्किन केयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें। इसमें सनस्क्रीन को शामिल करना बिलकुल न भूलें ये उन्हें सूरज की हानिकारक किरणों से बचाने में काफी मदद करेगी।

 

  • हाइड्रेट के तरीके (Hydration Tips): गर्मियों में अगर बच्चों को हाइड्रेट न रखा जाए तो उनकी सांस तेज़ चलने लगती है और बेचैनी होती है। इससे बचने के लिए उन्हें नींबू पानी, नारियल पानी, लस्सी के साथ ही हर आधे घंटे के अंतराल में पानी भी पिलाते रहें।

 

इससे सम्बंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें। इसके अलावा आप प्ले स्टोर (play store) से हमारा ऐप डाउनलोड करके डॉक्टर से डायरेक्ट कंसल्ट कर सकते हैं। आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमे [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


 

  Crosscope signs MoU with Waleed Pharmacy to transform histopathology using AI-enabled digital pathology platform - ET HealthWorld

 



Source link

Leave a Comment