सिजोफ्रेनिया क्या है? जाने इसके लक्षण, कारण और उपचार


आधुनिक जीवनशैली और तनाव से ग्रसित होने के कारण, सिज़ोफ्रेनिया जैसे मानसिक रोग का सामना कर रहे लोगों की संख्या में वृद्धि हो रही है। सिज़ोफ्रेनिया एक ऐसा रोग है जिसमें व्यक्ति की विचारधारा, भावनाओं, और व्यवहार में असंतुलन होता है। इस रोग के लक्षण व्यक्ति की पहचान को काफी कठिन बना देते हैं। लक्षणों में आवाज़ें सुनाई देना, भ्रम, विचारों की विकृति, और सामाजिक संबंधों में अस्थिरता शामिल हो सकती है। सिज़ोफ्रेनिया के कारणों में आधुनिक जीवनशैली, तनाव, जीवन में असंतोष, और जीनेटिक कारकों का महत्वपूर्ण योगदान है। इस रोग का उपचार अक्सर दवाओं, प्राथमिक चिकित्सा, और मानसिक स्वास्थ्य की सहायता पर आधारित होता है।

 

सिज़ोफ्रेनिया के रोगियों के परिवार के लिए इससे निपटना भी कठिनाईयों से भरा होता है। उन्हें अपने परिवारी और सामाजिक संबंधों की सहायता और समर्थन की जरूरत होती है। इस समस्या के समाधान के लिए समाज में जागरूकता बढ़ाना, मानसिक स्वास्थ्य की जानकारी प्रदान करना, और रोगियों के लिए समर्थन प्रदान करना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

 

 

 

 

 

सिज़ोफ्रेनिया को एक गंभीर विकार के रूप में परिभाषित किया गया है जो व्यक्ति के सोचने, महसूस करने और कार्य करने के तरीके को प्रभावित करता है। सिज़ोफ्रेनिया से पीड़ित किसी व्यक्ति को वास्तविक और काल्पनिक के बीच अंतर करने में कठिनाई हो सकती है; व्यक्ति असंवेदनशील या पीछे हटने वाला हो सकता है और उसे सामाजिक परिस्थितियों में सामान्य भावनाओं को व्यक्त करने में कठिनाई हो सकती है।

 

सिज़ोफ्रेनिया विकार एक विभाजित व्यक्तित्व या एकाधिक व्यक्तित्व नहीं है। सिज़ोफ्रेनिया से पीड़ित अधिकांश लोग हिंसक नहीं होते हैं और साथ ही दूसरों के लिए कोई ख़तरा नहीं पैदा करते हैं। यह विकार बचपन के अनुभवों, माता-पिता की कमी के कारण नहीं होता है और लक्षण हर व्यक्ति के लिए समान नहीं होते हैं।

  फटाफट कम करना है वजन तो छोड़ दीजिए टेंशन...बस इस्तेमाल करें शहद के साथ रसोई में रखा ये मसाला

 

 

 

सिजोफ्रेनिया के लक्षण क्या नज़र आते हैं ?

 

 

सिजोफ्रेनिया के निम्लिखित लक्षण होते हैं जैसे की-

 

 

  • कुछ ऐसा सुनें या देखें जो वहां नहीं है
  • देखे जाने का निरंतर एहसास
  • बोलने या लिखने का अजीब या बेतुका तरीका
  • शरीर की अजीब स्थिति
  • बहुत महत्वपूर्ण स्थितियों के प्रति उदासीन
  • शैक्षणिक या व्यावसायिक प्रदर्शन में हानि
  • व्यक्तिगत स्वच्छता और दिखावे में बदलाव
  • व्यक्तित्व में बदलाव
  • सामाजिक स्थितियों से प्रत्याहार में वृद्धि
  • प्रियजनों के प्रति अतार्किक, क्रोधित या चिंतित प्रतिक्रिया
  • सोने या ध्यान केंद्रित करने में असमर्थता
  • अनुचित या अजीब व्यवहार
  • धर्म या जादू-टोना के प्रति अत्यधिक चिंता

 

 

 

सिजोफ्रेनिया के कारण क्या हो सकते हैं ?

 

 

सिज़ोफ्रेनिया के कारण कई तत्वों का संयोजन हो सकता है। इसके अध्ययन से पता चला है कि इसका मुख्य कारण जीनेटिक और पर्यावरणीय कारकों का संयोजन हो सकता है। निम्नलिखित कुछ कारण हैं जो सिज़ोफ्रेनिया के विकास में भूमिका निभा सकते हैं:

 

  • जेनेटिक: जेनेटिक परिवारागत संदर्भ एक महत्वपूर्ण कारक हो सकता है। अगर किसी परिवार में सिज़ोफ्रेनिया के रोगी होते हैं, तो उनके आसपास के लोगों में इस रोग के विकास का खतरा बढ़ जाता है।

 

  • ब्रेन का विकास: प्राथमिक ब्रेन के विकास के दौरान किसी प्रकार की असामान्यता, निर्वासन की स्थिति, या ब्रेन के अन्य क्षेत्रों में कोई संशोधन सिज़ोफ्रेनिया के विकास में एक कारक हो सकता है।

 

  • डोपामीनिक दुर्बलता: डोपामीन नामक एक भौतिक रसायन जो दिमाग में पाया जाता है, उसके संबंध में असामान्यता सिज़ोफ्रेनिया के विकास के लिए एक महत्वपूर्ण कारक हो सकती है।
  Here are the best ways to reduce stress and improve mental health at work

 

  • पर्यावरणीय कारक: भीड़-भाड़, जीवन में अस्थिरता, उच्च तनाव, मानसिक या शारीरिक उत्पीड़न, और नुकसानकारी पर्यावरणीय प्रभाव भी सिज़ोफ्रेनिया के विकास में योगदान कर सकते हैं।

 

  • अन्य मानसिक स्वास्थ्य समस्याएँ: बड़े तनाव, डिप्रेशन, या अन्य मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं का होना सिज़ोफ्रेनिया के विकास का कारण बन सकता है।

 

 

 

सिजोफ्रेनिया का उपचार किस प्रकार हो सकता हैं ?

 

 

सिज़ोफ्रेनिया का उपचार व्यक्ति के लक्षणों, स्थिति, और आवश्यकताओं के आधार पर निर्धारित किया जाता है। यहाँ कुछ मुख्य उपचार विकल्प हैं जो इस समस्या को संभालने में मदद कर सकते हैं:

 

 

दवाइयाँ: अत्यंत महत्वपूर्ण है कि व्यक्ति किसी भी दवाई का सेवन केवल चिकित्सक के परामर्शानुसार करे। डोपामीन, सीरोटोनिन, और अन्य रसायनिक संशोधकों का उपयोग लक्षणों को संयंत्रित करने और बेहतर स्वास्थ्य की दिशा में मदद कर सकता है।

 

प्राथमिक चिकित्सा: सिज़ोफ्रेनिया के उपचार का हिस्सा एक संदर्भ में मानसिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ के साथ प्राथमिक चिकित्सा की जा सकती है। यह व्यक्ति को उपचार के विकल्पों के बारे में सहायता और मार्गदर्शन प्रदान करता है।

 

थेरेपी: मानसिक स्वास्थ्य के पेशेवरों द्वारा संचालित थेरेपी जैसे कि सामाजिक कौशल सिखाने का कार्य, स्वाध्याय, और प्रात्याशिकता विकसित करने के लिए विशेषज्ञता और समर्थन प्रदान कर सकती है।

 

 

 

सिजोफ्रेनिया के इलाज के लिए अच्छे अस्पताल-

 

  Cholesterol Secrets That Really Work, Say Physicians — Eat This Not That

 

 

इससे सम्बंधित किसी भी समस्या का इलाज कराना चाहते हैं, या कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें। इसके अलावा आप प्ले स्टोर (play store) से हमारा ऐप डाउनलोड करके डॉक्टर से डायरेक्ट कंसल्ट कर सकते हैं। आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमे [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

Doctor Consutation Free of src=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


 

 



Source link

Leave a Comment