Opinion: नए वर्ष का स्वागत करें स्वस्थ दिल से, जरुर अपनाएं यह परिवर्तन



<p style="text-align: justify;">पिछले 1 से 2 वर्षों में आकस्मिक कार्डियक अरेस्ट के अनेक मामले देखने में आ रहे हैं. बच्चे, जवान या बुजुर्ग,&nbsp; आजकल कोई भी दिल से जुड़ी समस्याओं से अछूता नहीं रहा है. दिल का स्वास्थ्य हमारी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए. नए वर्ष 2024 में हम यह संकल्प लेकर कुछ महत्वपूर्ण परिवर्तन जीवन में जोड़ेंगे तो दिल को तंदुरुस्त रख सकेंगे. इंदौर स्थित कोकिलाबेन धीरुभाई अंबानी अस्पताल के डॉ. मनोज बंसल, कन्सल्टेन्ट, इंटर्वेंशनल कॉर्डियोलॉजी बता रहे हैं इन परिवर्तनों के बारे में-</p>
<p style="text-align: justify;"><span style="color: #e03e2d;"><strong>अपने वजन को नियंत्रित करें और मोटापे से बचें</strong></span></p>
<p style="text-align: justify;">अधिक वजन से हृदय रोग, लकवा, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर एवं खून में थक्के जमने की संभावना बढ़ जाती है, इसीलिए अधिक वजन को नियंत्रित करने के लिए अपनी जीवन शैली को परिवर्तित करने की ओर ध्यान देना जरुरी है. आजकल वजन बढ़ने की समस्या लोगों में अधिक देखी जा रही है, जिससे दिल के स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है. वजन कम करने के लिए भूखा रहना सही नहीं है इसीलिए एक स्वस्थ और बैलेंस डाइट के साथ यदि नियमित व्यायाम किया जाए तो वजन को नियंत्रित किया जा सकता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><span style="color: #e03e2d;"><strong>वर्ष में एक बार अपना संपूर्ण बॉडी चेकअप जरूर करवाएं</strong></span></p>
<p style="text-align: justify;">शहरी जीवन से जुड़ी लाइफ़स्टाइल के कारण ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, कोलेस्ट्रोल आदि बीमारियां होने की संभावना कई गुना अधिक होती है. इन बीमारियों से जुड़े लक्षणों को समझ नहीं पाते हैं, जिसके लिए हमें अपने फुल बॉडी चेकअप की आवश्यकता होती है. इसी से हमें सही समस्या का पता लग सकता है और इसी अनुसार उचित डॉक्टर से इलाज लिया जा सकता है. चौबीस घंटे डॉक्टरों की उपलब्धता वाले अस्पताल में अपना चेकअप कराएं, ताकि उचित समय पर तुरंत इलाज मिल सके.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong><span style="color: #e03e2d;">अपने जीवन को तनाव मुक्त रखें</span></strong></p>
<p style="text-align: justify;">जिन लोगों के जीवन में अधिक तनाव होता है, उनमें हार्ट अटैक और पैरालिसिस का रिस्क बढ़ जाता है. इसके लिए जरूरी है कि खेलकूद या किसी हॉबी में स्वयं को व्यस्त करके तनाव को कम करें.&nbsp;</p>
<p><iframe title="YouTube video player" src="https://www.youtube.com/embed/_OlDfEXy-aQ?si=mGpghjeplVyQeHOw" width="560" height="315" frameborder="0" allowfullscreen="allowfullscreen"></iframe></p>
<p style="text-align: justify;"><span style="color: #e03e2d;"><strong>योग और प्राणायाम</strong></span></p>
<p style="text-align: justify;">बीते वर्षों में, भारत पूरी दुनिया में योग गुरु के रूप में जाना जाता है. हम सभी अपने जीवन में योग और प्राणायाम को अपनाकर लाइफस्टाइल में सुधार कर बीमारियों से बच सकते हैं.</p>
<p style="text-align: justify;"><span style="color: #e03e2d;"><strong>भोजन में नमक और शक्कर की मात्रा को कम करें</strong></span></p>
<p style="text-align: justify;">अधिकांश लोगों को स्वाद के लिए भोजन में नमक अधिक मात्रा में डालकर खाने की आदत होती है जो कि सही नहीं है. अधिक नमक लेने से ब्लड प्रेशर का रिस्क कई गुना बढ़ जाता है. आहार में ऊपर से नमक डालकर खाना भी हानिकारक होता है, इसीलिए टेबल पर ऊपर से नमक ना डालें. वहीं भारत में डायबिटीज के रोगियों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है जिससे हार्ट संबंधित खतरे होने का सीधा संबंध है तो ऐसे में जरूरी है, कि हम अपने खाने में मीठे की मात्रा को नियंत्रित करें.</p>
<p style="text-align: justify;"><span style="color: #e03e2d;"><strong>तंबाकू का प्रयोग ना करें</strong></span></p>
<p style="text-align: justify;">धूम्रपान अथवा पान मसाले में मौजूद तंबाकू हार्ट अटैक का खतरे को बढ़ा देता है.&nbsp; खासकर युवाओं में तंबाकू का प्रयोग बंद करने के बाद भी अगले 20 से 25 वर्ष तक के लिए हार्ट संबंधित खतरा बना रहता है, इसलिए जरूरी है की तंबाकू से दूरी बनाए रखें.</p>
<p style="text-align: justify;"><span style="color: #e03e2d;"><strong>कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करें</strong></span></p>
<p style="text-align: justify;">अपने भोजन में घी, तेल एवं तली हुई चीजों का प्रयोग कम करके अपने कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करना चाहिए क्योंकि कोलेस्टॉल की अधिकता हार्ट ब्लॉकेज या हार्ट अटैक के रिस्क को बढ़ा सकती है. LDL यानी कि खराब कोलेस्ट्रॉल जो सिर्फ आहार से नियंत्रित नहीं होता है, इसके लिए कार्डियो एक्सरसाइज करना भी बेहद जरुरी है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><span style="color: #e03e2d;"><strong>सोशल मीडिया पर अत्यधिक समय न व्यतीत करें</strong></span></p>
<p style="text-align: justify;">एक्सरसाइज और खेलकूद स्वयं को स्वस्थ रखने के लिए बहुत जरूरी है. आजकल युवा वर्ग अपने दिन का अधिकतर समय सोशल मीडिया पर व्यतीत करते हैं. जरूरी है कि सोशल मीडिया के साथ-साथ सेहत पर भी ध्यान दें और मोबाइल पर अधिक समय बीताने के बजाए शारीरिक गतिविधियों में संलग्न रहें.</p>
<p style="text-align: justify;"><span style="color: #e03e2d;"><strong>रोज 45 मिनट पैदल जरूर चलें</strong></span></p>
<p style="text-align: justify;">अमेरिकन कॉलेज आफ कार्डियोलॉजी द्वारा दी जाने वाली गाइडलाइंस में स्पष्ट रूप से कहा गया है की रोज 45 मिनट पैदल चलना स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है. नियमित रुप से 45 मिनट का समय निकालकर पैदल चलने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, जिससे हार्ट भी सुचारु रुप से कार्य करने में सक्षम होता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>[नोट- उपरोक्त दिए गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं. यह ज़रूरी नहीं है कि एबीपी न्यूज़ ग्रुप इससे सहमत हो. इस लेख से जुड़े सभी दावे या आपत्ति के लिए सिर्फ लेखक ही जिम्मेदार है.]</strong></p>



Source link

  Britney Spears shares emotional post on mental health and complaining: 'I try to stay grateful'

Leave a Comment