कहीं आप भी तो नहीं खा रहे Tomato Ketchup, एक्सपर्ट ने बताया कैसे है ये खतरनाक?


Tomato Ketchup : किसी चीज का स्वाद बढ़ाने में टोमैटे केचप का इस्तेमाल होता है. बच्चों को यह खूब पसंद आता है. बड़े भी इसके शौकीन हैं. टोमैटो केचप (Tomato Ketchup) का टेस्ट बर्गर के साथ भी लोग उठाते हैं, पिज्जा का साथ भी इसका लुत्फ उठाया जाता है. स्नैक्स कोई भी हो, टोमैटो केचप उसका स्वाद बढ़ा देता है, लेकिन कम लोग ही जानते हैं कि टोमैटो केचप भले ही आपके स्वाद को बढ़ा देता है लेकिन इसके नुकसान भी कई हैं. दुनियाभर में काफी पसंद किए जाने वाले केचप को अनहेल्दी फूड की कैटेगरी में रखा गया है. इसलिए इसका सेवन न करने की सलाह दी जाती है.

 

टोमौटो केचप क्यों नुकसानदायक

टोमौटे केचप यानी टमाटर सॉस खाने से शरीर में सोडियम और शुगर का इन्टेक काफी बढ़ जाता है. इस वजह से यह सेहत के लिए नुकसानदायक (Side Effects Of Tomato Ketchup) माना जाता है. यही कारण है कि हेल्थ एक्सपर्ट और न्यूट्रिशनिस्ट इसे न खाने के सलाह देते हैं.

 

टोमैटो केचप खाने से सेहत को नुकसान

1. टोमेटो सॉस या केचप को बनाने में केमिकल्स और प्रिजरवेटिव्स का इस्तेमाल होता है, जिसकी वजह से मोटापा और डायबिटीज जैसी बीमारियां हो सकती है. इसलिए इसे ज्यादा खाने से बचना चाहिए.

 

2. पोषण एक्सपर्ट के अनुसार, टोमैटो केचप में शुगर की मात्रा ज्यादा होती है. मतलब अगर आप रोजाना एक बड़ा चम्मच केचप खाते हैं तो यह शुगर की आपकी डेली जरूरत का 7 प्रतिशत या उससे ज्यादा हो सकता है. इसी वजह से यह इतना मीठा भी होता है.

  5 Ayurvedic Herbs to Manage Your Blood Sugar Level Naturally

 

3. टमाटर सॉस या केचप में चीनी के साथ ही नमक भी अधिक मात्रा में होता है. बहुत ज्यादा नमक वाली चीज से हाई ब्लड प्रेशर का खतरा भी रहता है.

 

4. खाने में स्वादिष्ट केचप एक एसिडिक फूड होता है. इसकी वजह से गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल संबंधी समस्याएं खड़ी हो सकती हैं.

 

5. केचप को बनाने में डिस्टिल्ड विनिगर और फ्रक्टोज शुगर की ज्यादा मात्रा का इस्तेमाल होता  है. इसके साथ ही रेगुलर कॉर्न सीरप और ऑनियन पाउडर का भी यूज होता है. यह जीएमओ कॉर्न से बनाया जाता है. जिसमें केमिकल्स और पेस्टिसाइड्स का खूब इस्तेमाल होता है. इसलिए इसे सेहत के लिए नुकसानदायक बताया जाता है.

 

6. जब टोमेटो केचप बनाया जाता है तो सबसे पहले टमाटर को खूब उबाला जाता है. इसके बाद उसके बीज और स्किन को निकाल दिया जाता है और फिर से पकाया जाता है. इस पूरी प्रक्रिया में कई घंटे लगते हैं. इस वजह से टमाटर के पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं.

 

7. एक रिपोर्ट के मुताबिक, टौमेटो केचप में प्रोटीन, फाइबर या मिनरल्स नहीं होते हैं. शुगर और सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है, जिससे किडनी पर भी असर पड़ सकता है. इसमें पका हुआ लाइकोपीन पाया जाता है, जिसे शरीर आसानी से ऑब्जर्व नहीं कर पाता है. इसे खाने से शरीर को कई परेशानियां होती हैं.

 

 

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

Leave a Comment