काजू या बादाम, वजन कम करने के लिए क्या खाएं ? आपके मन में भी है ये सवाल तो यहां है जवाब


Cashew vs Almond: काजू और बादाम दोनों ही बेहद पावरफुल और फायदेमंद नट्स हैं. इनमें कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए लाभकारी होते हैं. नट्स के सेवन से वजन तेजी से कम हो सकता है. इससे शरीर का वेट अच्छी तरह कंट्रोल हो सकता है. नट्स में अनसैचुरेटेड फैट्स और कई अन्य पोषक तत्व भी पाए जाते हैं, जो हार्ट डिजीज और डायबिटीज से बचाने का काम करते हैं. विशेषज्ञ नट्स में काजू-बादाम (Cashew and Almond Benefits) को काफी अच्छा मानते हैं. दोनों शक्तिशाली और फायदेमंद होते हुए भी एक-दूसरे से काफी अलग हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि वजन कम करने में काजू या बादाम में से कौन ज्यादा बेहतर है.

 

काजू के फायदे

 

1. काजू में प्रोटीन, हेल्दी फैट्स और पॉलीफेनॉल जैसे एंटी-ऑक्सीडेंट भरपूर पाए जाते हैं. जो इसकी ताकत को बढ़ाकर शरीर के लिए फायदेमंद बनाते हैं.

2. एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अनसैचुरेटेड फैट्स होने से काजू को भले ही लोग ज्यादा अच्छा नहीं मानते लेकिन इसमें स्टीयरिक एसिड ज्यादा होता है, जिसका ब्लड कोलेस्ट्रॉल पर ज्यादा असर नहीं होता है.

3. रिसर्च के मुताबिक, हर दिन थोड़ी-थोड़ी मात्रा में काजू खाने से LDL कोलेस्ट्रॉल में थोड़ी कमी आ सकती है.

4. काजू खाने से न सिर्फ खराब कोलेस्ट्रॉल कम होता है, बल्कि इसमें ज्यादा मैग्नीशियम होने से हार्ट को भी मजबूती मिलती है और हार्ट डिजीज का रिस्क भी कम हो सकता है.

5.  काजू में कार्बोहाइड्रेट कम होता है, इसलिए वह ब्लड शुगर को कंट्रोल करने का काम कर सकता है. इससे यह टाइप 2 डायबिटीज वालों के लिए अच्छा ऑप्शन बन सकता है.

  Central Market Masala Tasty Weight Loss Recipes

 

बादाम के फायदे

 

1. बादाम में फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है, जिससे यह आंत की सेहत के लिए फायदेमंद होता है.

2. बादाम में विटामिन E बहुत अच्छी मात्रा में पाया जाता है, जो बेहद पावरफुल एंटी-ऑक्सीडेंट है. स्टडी के मुताबिक, बादाम में अच्छे बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जिससे इम्यून सिस्टम मजबूत होता है.

3. बादाम में भी मैग्नीशियम की मात्रा ज्यादा होती है, जिससे यह टाइप 2 डायबिटीज के खतरे को कम कर सकता है.

4. एक्सपर्ट्स के मुताबिक, बादाम में मौजूद मैग्नीशियम ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद कर सकता है, जो हार्ट अटैक, स्ट्रोक और किडनी फेलियर का कारण बनता है.

5. बादाम खाने से एलडीएल का लेवल भी कम हो सकता है.

 

वजन कम करने काजू या बादाम कौन ज्यादा बेहतर

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, बादाम खाने से शरीर में जमा अतिरिक्ट फैट कम हो सकता है. अगर बहुत ज्यादा मोटापा है या वजन बढ़ गया है तो रोजाना बादाम खाने से कम हो सकता है. कई स्टडी के अनुसार, बाकी नट्स के मुताबिक, काजू में फैट कम पाया जाता है. हालांकि, वजन कम करने में इसकी भूमिका पर अभी ज्यादा अध्ययन नहीं हो सका है. चूंकि काजू में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है, इसलिए यह पेट को लंबे समय तक भरा रखता है. इसमें विटामिन K और जिंक भी ज्यादा पाया जाता है लेकिन जब वजन कम करने की बात आती है तो फाइबर, विटामिन E और कैल्शियम के लिए बादाम ज्यादा बेहतर विकल्प है.

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

  Weight Loss Does Not Increase The Chance of Pregnancy: Study

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

Leave a Comment