मुंह गंदा रखते हैं तो सावधान ! हो सकता है कैंसर, जानें कैसे करें खुद का बचाव


अगर आप तंबाकू नहीं खाते हैं और मुंह को हमेशा गंदा रखते हैं तो आपको कैंसर हो सकता है. इसलिए ओरल हेल्थ को लेकर लापरवाही न बरतने की सलाह दी जाती है. ओरल हेल्थ (Oral Health) में नियमित अच्छी तरह ब्रश करना, फ्लॉसिंग और दांतों के टेस्ट के साथ ओरल हाइजीन आता है.

डॉक्टर भी सलाह देते हैं कि अच्छी सेहत के लिए ओरल हेल्थ का बेहतर होना जरूरी है. अगर ओरल हेल्थ का ध्यान न रखा जाए तो इससे कई तरह की बीमारियों का खतरा रहता है. यहां तक की कैंसर (Cancer) भी हो सकता है. ऐसे कई केस भी देखने को मिले हैं.  इसलिए दांतों, मसूड़ों का ध्यान रखना चाहिए.

डॉक्टर भी सलाह देते हैं कि अच्छी सेहत के लिए ओरल हेल्थ का बेहतर होना जरूरी है. अगर ओरल हेल्थ का ध्यान न रखा जाए तो इससे कई तरह की बीमारियों का खतरा रहता है. यहां तक की कैंसर (Cancer) भी हो सकता है. ऐसे कई केस भी देखने को मिले हैं. इसलिए दांतों, मसूड़ों का ध्यान रखना चाहिए.

हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि ज्यादातर लोग यही जानते हैं कि मुंह का कैंसर सिर्फ गुटका, पान या तंबाकू खाने से होता है लेकिन ऐसा नहीं है. अगर ओरल हेल्थ पर सही तरह ध्यान न दिया जाए तो भी माउथ कैंसर का खतरा रहता है. इसलिए मुंह की साफ-सफाई का खास ख्याल रखना चाहिए.

हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि ज्यादातर लोग यही जानते हैं कि मुंह का कैंसर सिर्फ गुटका, पान या तंबाकू खाने से होता है लेकिन ऐसा नहीं है. अगर ओरल हेल्थ पर सही तरह ध्यान न दिया जाए तो भी माउथ कैंसर का खतरा रहता है. इसलिए मुंह की साफ-सफाई का खास ख्याल रखना चाहिए.

डॉक्टर का कहना है कि ओवरऑल हेल्थ को बेहतर बनाने में ओरल हेल्थ काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. ओरल हेल्थ पर ध्यान न देने से हार्ट डिजीज, डायबिटीज जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं.

डॉक्टर का कहना है कि ओवरऑल हेल्थ को बेहतर बनाने में ओरल हेल्थ काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. ओरल हेल्थ पर ध्यान न देने से हार्ट डिजीज, डायबिटीज जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं.

इससे ओरल इंफेक्शन, हार्ट डिजीज, बैक्टीरियल निमोनिया, प्रेगनेंसी और मुंह के कैंसर का खतरा रहता है. कुछ मामलों में तो ओरल हेल्थ के बिगड़ने से HIV एड्स और ऑस्टियोपोरोसिस का भी रिस्क हो सकता है.

इससे ओरल इंफेक्शन, हार्ट डिजीज, बैक्टीरियल निमोनिया, प्रेगनेंसी और मुंह के कैंसर का खतरा रहता है. कुछ मामलों में तो ओरल हेल्थ के बिगड़ने से HIV एड्स और ऑस्टियोपोरोसिस का भी रिस्क हो सकता है.

हर 6 महीने में दांतों की जांच कराएं.  रोजाना कम से कम दो मिनट तक ब्रेश करें.  दांतों में दर्द या मसूड़ों में इंफेक्शन नजरअंदाज न करें.  हर तीन महीने में अपना ब्रश जरूर बदल दें.  ज्यादा मीठा खाने से बचें. तंबाकू-शराब का सेवन न करें.

हर 6 महीने में दांतों की जांच कराएं. रोजाना कम से कम दो मिनट तक ब्रेश करें. दांतों में दर्द या मसूड़ों में इंफेक्शन नजरअंदाज न करें. हर तीन महीने में अपना ब्रश जरूर बदल दें. ज्यादा मीठा खाने से बचें. तंबाकू-शराब का सेवन न करें.

  Day 2 Syndicate Crown — CrossFit Semifinal

Published at : 27 Mar 2024 04:53 AM (IST)

हेल्थ फोटो गैलरी

हेल्थ वेब स्टोरीज



Source link

Leave a Comment